68 साल बाद फिर टाटा की हुई एयर इंडिया

नई दिल्ली: देशभर से आए दिन कई तरह के मामले सामने आते रहते है इस बीच एक बड़ी खबर सामने आ रही है जिसमे बताया जा रहा है कि टाटा संस ने एयर इंडिया पर लगी बोली जीत ली है। इस बिड पर टाटा की काफी वक़्त से नजर थी। इसे लेकर काफी वक़्त तक चर्चा है। टाटा की इस वक़्त तो एयरलाइंस में स्टेक है। इस डील से 68 वर्ष पश्चात् एयर इंडिया फिर टाटा की हो गयी है।

वही एयर इंडिया के कर्मचारियों के लिए यह बहुत अच्छी खबर है। एयर इंडिया के लिए पैनल ने टाटा ग्रुप को चयनित किया है। एयर इंडिया के लिए टाटा ग्रुप के साथ-साथ स्पाइसजेट के अजय सिंह ने बोली लगाई थी। जेआरडी टाटा ने 1932 में टाटा एयरलाइंस की स्थापना की थी। दूसरे विश्व युद्ध के समय विमान सेवा पर पाबंदी लगा दी गयी। विमान सेवाएं बहाल हुईं, तो 29 जुलाई 1946 को टाटा एयरलाइंस का नाम परिवर्तित कर एयर इंडिया लिमिटेड रख दिया गया। 

बता दे कि 1947 में एयर इंडिया की 49 फीसदी हिस्सेदारी सरकार ने ले ली थी। 1953 में इसका राष्ट्रीयकरण हो गया। सरकार ने एयर कॉर्पोरेशन एक्ट पास किया तथा कंपनी के फाउंडर जेआरडी टाटा से मालिकाना अधिकार खरीद लिया। इसी के पश्चात् इसका नाम एयर इंडिया इंटरनेशनल लिमिटेड रख दिया गया। अब 68 वर्ष पश्चात् अपनी ही कंपनी को टाटा संस ने वापस खरीद लिया है। वही इस डील की हर तरफ चर्चा है। बता दे कि सरकार ने इस पर फाइनल मुहर लगा दी है

अंतर्राष्ट्रीय वृद्ध दिवस: वटवृक्ष की तरह होते हैं बुजुर्ग, जिनकी छाँव में पनाह पाता है पूरा परिवार

अक्टूबर की पहली तारीख को महंगाई का बड़ा झटका, महंगा हुआ LPG गैस सिलेंडर

पेट्रोल-डीज़ल के दामों में फिर लगी आग, आज लगातार दूसरे दिन महंगा हुआ ईंधन

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -