जितना मीठा उतना ही गुणकारी है शहद

जितना मीठा उतना ही गुणकारी है शहद

शहद का उपयोग इंसान के जीवन में सदियों से हो रहा है और इसके सेवन से शरीर को बहुत सारे लाभ मिलते हैं. शहद हमें मधुमक्खियों के छत्ते से मिलता है. सही मात्रा में शहद का सेवन करना काफी लाभदायक है. बहुत से बीमारियों के घरेलु नुस्खों में शहद को काम में लिया जाता है. जानते हैं कुछ ऐसे ही नुस्खों के बारे में जिनमे शहद का उपयोग किया जाता है.

त्वचा पर दाग धब्बे होने पर तथा चेहरे पर झाइयाँ या झुर्रिया आदि होने पर एक चम्मच शहद में चौथाई चम्मच नींबू का रस मिलाकर लगा लें। आधे घंटे बाद धो लें। तीन सप्ताह तक ये प्रयोग करने पर दाग मिट जाते है। दालचीनी को बारीक पीस कर शहद में मिला लें। तम्बाकू की तलब लगने पर इसे चाटने से तलब शांत हो जाती है। इस तरह तम्बाकू छोड़ने में मदद मिलती है. आधा चम्मच अदरक का रस और एक चम्मच मधु मिलाकर चाटने से खांसी ठीक हो जाती है। दो चम्मच शहद और दो चम्मच प्याज का रस रोजाना कुछ दिन लेने से फेफड़ों के रोग और दमा में बहुत लाभ होता है।

शहद कामशक्ति वर्धक माना गया है, इसका सेवन पुरुषों में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन और महिलाओं में एस्ट्रोजन हार्मोन बनाने के प्रक्रिया को तेज करता है. टाइफाइड, निमोनिया में शहद सेवन लीवर और आंतों की कार्यक्षमता बढाता है. हलके गुनगुने पानी में शहद और नीम्बू का रस मिलाकर सुबह पीने से वजन कम होता है, कब्ज दूर होता है, साथ ही शरीर से विषैले तत्व बाहर निकल जाते है. मोटापे से ग्रसित और ब्लड प्रेशर, डायबिटीज, कोलेस्ट्रॉल जैसी समस्याओं से ग्रसित लोगों को शहद नहीं खाना चाहिए। शहद को गर्म करके उपयोग में नहीं लेना चाहिए।

सेंधा नमक और शहद से पाए चैन भरी नींद

बालो को धोये शहद के पानी से

नहाने के पानी में मिलाये दूध और शहद

 

?