कमाल की चीज है अदरक

कमाल की चीज है अदरक

अदरक का प्रयोग हमारे खाने में सदियों से हो रहा है. सर्दी में अक्सर चाय और काढ़े में इसका प्रयोग किया जाता है. हमारे पूर्वज दवाई के तौर पर भी अदरक का इस्तेमाल करते आये हैं. आज हम अदरक से बनने वाले कुछ ऐसे घरेलु नुस्खों के बारे में बात करेंगे जो बहुत सी बीमारियों में लाभदायक होते हैं. अदरक पेट को लंबे समय तक तृप्त रखता है जिसके कारण भूख नहीं लगती है। यह हजम शक्ति को भी बढ़ाता है। इसमें फाइबर प्रचुर मात्रा में होता है जिसके कारण मलोत्सर्ग की प्रक्रिया में मदद मिलती है।

पिसी हुई सोंठ एक ग्राम और जरा-सी हींग और सेंधानमक की फंकी गर्म पानी से लेने से पेट दर्द ठीक हो जाता है। एक चम्मच पिसी हुई सोंठ और सेंधानमक एक गिलास पानी में गर्म करके पीने से पेट दर्द, कब्ज, अपच ठीक हो जाते हैं। अदरक का 10 ग्राम, आक की जड़ 10 ग्राम, इन दोनों को कूटकर इसकी कालीमिर्च के बराबर गोली बना लें। इन गोलियों को गुनगुने पानी के साथ देने से हैजे में लाभ पहुंचता है. अदरक में छेद करके उसमें एक चने के बराबर हींग भरकर कपड़े में लपेटकर सेंक लें।

उसके बाद इसको पीसकर मटर के दाने के आकार की गोली बना लें। दिन में एक-एक करके 8 गोलियां तक चूसें अथवा अदरक का रस शहद के रस में मिलाकर चूसने से भी गले की बैठी हुई आवाज खुल जाती है। अदरक का रस और खड़ी शक्कर मिलाकर पीने से बहुमूत्र रोग की बीमारी नष्ट हो जाती है। अदरक का रस पांच ग्राम मात्रा में 100 मिलीलीटर अनार के रस में मिलाकर कुछ दिनों तक सुबह-शाम सेवन करने से अम्लपित्त की समस्या नहीं होती है।

ये भी पढे

ये मसाले पहुँचाते है सेहत को लाभ

अपेंडिक्स के दर्द में फायदेमंद है अदरक की चाय

पुदीने और धनिये से पाए पेट फूलने की समस्या से आराम

 

?