हिन्दू धर्म की इस परंपरा को सुनकर खड़े हो जाएंगे आपके रोंगटे

हिन्दू धर्म की इस परंपरा को सुनकर खड़े हो जाएंगे आपके रोंगटे

दुनिया में ना जाने कितने तरह के अलग-अलग धरम के लोग रहते हैं, जो अपनी जीवन से मृत्यु के बीच में अपने धर्म की अलग-अलग परम्पराओं का पालन करते हैं. आज इस खबर के माध्यम से हम आपको हिन्दू धर्म की कुछ ऐसी परम्पराओं के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसका आज तक लोग पालन करते आ रहे हैं. हिन्दू धर्म के अनुसार जब कोई अनुषय मर जाता है, तो उससे जुड़ी कई सारी परम्पराएं हैं, जिसे लोग आज भी मानते हैं.

किसी इंसान के मर जाने के बाद, हिन्दू मान्यताओं के अनुसार उसके बिस्तर को दान में दे दिया जाता है. बरसों से चली आ रही यह परंपरा आज भी जीवित है. यह हम सब बचपन से देखते हुए आ रहे हैं कि जब कोई व्यक्ति मर जाता है या फिर अपने शरीर को त्याग देता है, तब उसके बिस्तर, कपड़े और यहां तक कि उसकी चारपाई या खटिया भी दान में दे दी जाती है.

बताया जाता है कि उस व्यक्ति के सामान को घर में रखने से घर में नकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है, जिसका असर सीधे मनुष्य के मन पर पड़ता है. आप खुद ही सोचें कि जो व्यक्ति रोज़ उन कपड़ों को पहनता था, उस बिस्तर का इस्तेमाल करता था अचानक वह नहीं रहे तो अजीब लगना स्वाभाविक है. कई कमज़ोर दिल वाले लोग तो उनके बारे में सोचते हुए डर तक जाते हैं. इसी कड़ी में दूसरी और भी नकारात्मक ऊर्जा घर में आने लगती है, जिससे घर का माहौल बिगड़ने लगता है. इसीलिए उन चीज़ों को दान में देना ही बेहतर समझा जाता है.

9 सालों बाद खिला सड़े हुए मांस की तरह महकने वाला फूल

एक ऐसा शहर जो पूरा रेड लाइट एरिया है

इस दुर्लभ पत्थर में आग लाकर मिलते हैं वाईफाई सिग्नल