बजरंग पुनिया ने रचा इतिहास, बने ये कारनामा करने वाले पहले भारतीय रेसलर

Sep 21 2019 06:02 PM
बजरंग पुनिया ने रचा इतिहास, बने ये कारनामा करने वाले पहले भारतीय रेसलर

कजाकिस्तान में चल रहे वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में भारतीय रेसलर बजरंग पूनिया भले ही गोल्ड मेडल हासिल न कर पाए हो, किन्तु शुक्रवार को कांस्य पदक जीतते ही उन्होंने इतिहास रच दिया। मंगोलियन पहलवान को 8-7 से पटखनी देते हुए बजरंग इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता में तीन पदक जीतने वाले पहले भारतीय रेसलर बन गए हैं।

पुरुषों के 65 किग्रा फ्रीस्टाइल में ब्रोंज मेडल जीतकर विश्व कुश्ती चैंपियनशिप में अपना कुल तीसरा पदक जीता। बजरंग ने इससे पहले 2013 में ब्रोंज और 2018 में सिल्वर मेडल जीता था। बजरंग ने शुक्रवार को ब्रोंज मेडल के मुकाबले में मंगोलिया के तुल्गा तुमुर ओचिर को 8-7 से हराया। ओचिर अंडर-23 वर्ग में एशियाई चैम्पियन है। ओचिर ने मुकाबले की शुरुआत में ही बजरंग को मैट से बाहर कर उनपर दबाव बना दिया। उन्होंने बजरंग की हाथों पर मजबूत पकड़ बनाई, जिससे यह भारतीय रेसलर जवाबी हमला नहीं कर पाया। इसके बाद ओचिर ने चार अंक प्राप्त कर 6-0 की बढ़त कायम कर ली।

बजरंग ने दूसरे पीरियड में अपने अंदाज में जवाबी हमले के साथ मुकाबले में वापसी की। उन्होंने पहले विरोधी खिलाड़ी की बढ़त को कम किया और फिर एक अंक की बढ़त प्राप्त कर टक्कर के मुकाबले को 8-7 से अपने नाम कर लिया। यह मौजूदा सत्र का पहला टूर्नामेंट है, जहां बजरंग फाइनल में जगह बनाने में विफल रहे। उन्होंने हालांकि टूर्नामेंट से ओलंपिक कोटा प्राप्त कर लिया।

एक मैच में विराट ने बनाए तीन विश्व रिकॉ़र्ड, पढ़ें रिपोर्ट

World Wrestling Championship: बजरंग पूनिया और रवि कुमार के बदौलत देश ने हासिल किया ओलिंपिक कोटा

AIBA World Championship : भारत के इन दो दिग्गज पहलवानो ने बनाई सेमीफाइनल में जगह