रामदेव और राम रहीम चाहते हैं हवाईअड्डों पर तलाशी से छूट

नई दिल्ली : योग गुरु बाबा रामदेव और गुरमीत राम रहीम चाहते हैं कि देश के किसी हवाईअड्डे पर उनकी तलाशी न ली जाए. इसके लिए दोनों ने सरकार से लिखित अनुरोध किया है. जिस पर केंद्र सरकार विचार कर रही है. ये दोनों ही मोदी सरकार के करीबी माने जाते हैं. रामदेव खुलेआम मोदी सरकार का सपोर्ट करते है तो राम रहीम ने हरियाणा में भाजपा की सरकार बनवाने में महत्बपूर्ण भूमिका निभाई है. नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री महेश शर्मा ने पुष्टि की है कि हमें दोनों से इस तरह का अनुरोध मिला है.

शर्मा का कहना है कि 'हम विचार कर रहे हैं कि इस बारे में क्या किया जा सकता है, क्योंकि तलाशी से छूट पाने वालों की सूची नए सिरे से बन रही है. क्योंकि हमें कई और अन्य संतों ने भी अपनी छड़ियों या त्रिशूल के साथ विमान में यात्रा करने की अनुमति मांगी है. जिन पर विचार किया जा रहा है और कोई न कोई हल निकाला जाएगा.'

अभी इन्हें मिली है छूट

राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, केंद्रीय मंत्री, लोकसभा में विपक्ष के नेता, सुप्रीम कोर्ट जज, हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस, मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री, राज्यपाल, राजदूत, दलाई लामा, सोनिया गांधी, राहुल गांधी, प्रियंका वाड्रा, रॉबर्ट वाड्रा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -