अविवाहित जरूर पर कुंवारे नहीं थे अटल

नई दिल्ली: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को शुक्रवार शाम को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम बिदाई दी गई, इसमें पीएम मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ राजनीति के कई दिग्गज मौजूद थे. भारत रत्न अटलबिहारी वाजपेयी आजीवन अविवाहित रहे थे, इसिलए  अटलजी की दत्तक पुत्री नमिता भट्टाचार्य ने उन्हें मुखाग्नि दी, लेकिन बहुत से लोग ये नहीं जानते कि नमिता भट्टाचार्य हैं कौन ?

दरअसल, जब अटल बिहारी वाजपेयी विक्टोरिया कॉलेज से पढाई कर रहे थे, जो अब लक्ष्मी बाई कॉलेज के नाम से जाना जाता है. इसी दौरान उनकी मित्रता राजकुमारी कौल से हुई, जो की उनकी सहपाठी थी. राजकुमारी अपने आखिरी समय तक अटलजी के साथ रही, यही नहीं जब अटलजी प्रधानमंत्री बने तो राजकुमारी अपनी बेटी और दामाद के साथ अटलजी को मिले पीएम निवास में भी रहने आ गई थी. राजकुमारी कौल कि ही बेटी का नाम नमिता है. 

राजकुमारी से प्रेम करते थे अटलजी


कुछ किताबें इस बात का भी हवाला देती हैं कि वाजपेयी जी ने कॉलेज के दिनों में कौल को एक चिट्ठी लिख प्‍यार का इजहार भी किया था, लेकिन उसका कोई जवाब उन्‍हें कभी नहीं मिला.  अटल जी पर लिखी गई किताब ‘अटल बिहारी वाजपेयीः ए मैन ऑफ आल सीजंस’ में इस घटना का जिक्र है. इसी किताब में ये भी बताया गया है कि वास्तव में राजकुमारी भी अटलजी से शादी करना चाहती थीं, लेकिन घर में विरोध के चलते यह संभव न हो सका, हालांकि अटल ब्राह्मण थे, लेकिन कौल अपने को कहीं बेहतर कुल का मानते थे. इसके बाद अटलजी राजनीति ने व्यस्त हो गए और राजकुमारी की शादी एक कॉलेज प्रोफेसर ब्रिज नारायण कौल से कर दी गई. एक प्रखर वक्ता, दृढ़ राजनेता और कवि हृदय वाले अटल बिहारी को कई राजनीतिक जानकार ‘आदर्श प्रेमी’ की भी संज्ञा देते हैं.

अविवाहित हूँ लेकिन कुंवारा नहीं हूँ 


अटलबिहारी वाजपेयी से कई दफा ये सवाल पूछा गया कि उन्होंने शादी क्यों नहीं की, लेकिन अटलजी ने इसका सीधे शब्दों में एक ही जवाब दिया, जैसा की उन्होंने एक दफा संसद में कहा था कि "मैं अविवाहित जरूर हूँ, लेकिन कुंवारा नहीं". उनके इस बयान के बाद उनके और राजकुमारी कौल के बीच सम्बन्ध को लेकर काफी चर्चा हुई थी. लेकिन अटलजी ने इन चर्चाओं पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी. इस मामले में राजकुमारी भी उनके साथ थीं, उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था कि ‘मैंने और अटल बिहारी वाजपेयी ने कभी इस बात की जरूरत नहीं महसूस की कि इस रिश्ते के बारे में कोई सफाई दी जाए.’ कालांतर में राजकुमारी की बेटी नमिता की शादी रंजन भट्टाचार्य से हो गई, उनकी एक बेटी भी है निहारिका. यही दोनों अंत समय में अटलजी का परिवार थे नमिता (बेटी) और निहारिका (नाती). 

ये भी पढ़ें:-

कटाक्ष: क्या राष्ट्रद्रोही हैं सिद्धू?

पंचतत्व में विलीन हुए अजित वाडेकर, दिग्गज क्रिकेटरों ने दी श्रद्धांजलि

जानिये किसने बनाया था वाजपेयी को अटल ?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -