एशियाई चैम्पियनशिप ट्रॉफी की जीत उरी हमले के शहीदों को समर्पित

बेंगलुरु : राष्ट्रीय हॉकी टीम के कप्तान पीआर श्रीजेश ने एशियाई चैम्पियनशिप ट्रॉफी में मिली जीत को उरी हमले में मारे गए भारतीय सैनिकों और उनके परिवार को समर्पित किया. श्रीजेश ने कहा यह उनके लिए दिवाली का तोहफा है जिन्होंने देश की रक्षा करते हुए अपना जीवन गंवा दिया. कुआलालंपुर से यहां पहुंचने के बाद वे संवाददाताओं से मुखातिब थे.

शहीद सैनिकों का स्मरण करते हुए कप्तान श्रीजेश ने कहा हमारी सीमाओं की रक्षा करने वाले भारतीय सैनिकों ने निश्चित तौर पर किसी अन्य पदक की तुलना में इस पदक का अधिक लुत्फ उठाया होगा. बता दें कि एशियाई चैम्पियनशिप ट्राफी के फाइनल में पाकिस्तान को हराने के बाद निक्किन थिमैया के साथ श्रीजेश सोमवार (31 अक्टूबर) रात लगभग 11 बजकर 45 मिनट पर शहर के एयरपोर्ट पहुंचे.

भारतीय हॉकी टीम के गोलकीपर ने कहा कि ‘सीमा पार के आतंकियों द्वारा उरी हमले में जान गंवाने वाले शहीद सैनिकों के परिजनों के लिए यह दिवाली का तोहफा भी है. पाकिस्तान के खिलाफ फाइनल में खेलते हुए भावनाओं के बारे में पूछने पर श्रीजेश ने कहा हां, पाकिस्तान के खिलाफ खेलते हुए भारतीय खिलाड़ियों के अंदर काफी भावनाएं होती हैं. हालांकि आज कल ध्यान मैदान के बाहर के मुद्दों से अधिक मैदानी संघर्ष पर होता है.

हाॅकी मैच में भारत के आगे पाक नतमस्तक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -