सांसद द्वारा किए गये कब्जे को सरकार ने हटाया

सांसद द्वारा किए गये कब्जे को सरकार ने हटाया

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल के सांसद अधीर रंजन काफी समय से एक आॅफिशियल बंगले में रह रहे थे। जो उन्हे काफी समय पहले अलाॅट हुआ था। जिसे सरकार ने अब जा कर खाली करवाया। सरकार ने पश्चिम बंगाल के सांसद अधीर रंजन चौधरी को यह बंगला तब दिया था जब वह यूपीए सरकार में मिनिस्टर थे। और तब से लेकर आज तक वह इस बंगले का इस्तेमाल करते हुए आ रहे हैं। अधीर रंजन बंगला खाली करवाने की कार्यवाही को अपनी राजनीति के कारण पूरी नहीं होने दे रहे थे। लेकिन आखिरकार हाई कोर्ट ने अब जाकर अधीर रंजन के खिलाफ फैंसला सुना ही दिया।

हाई कोर्ट ने लंबे समय से चले आ रहे इस केस का फैसला अधीर रंजर के खिलाफ सुना ही दिया। हाई कोर्ट ने सांसद चौधरी की पिटिशन को खारिज कर दिया। इन सब के चलते सांसद चौधरी ने बयान देते हुए कहा कि मेरा जो भी सामान है वो सब दिल्ली पुलिस के पास है। और अगर कोई चीज चोरी हुई तो इसके लिए दिल्ली पुलिस जिम्मेदार होगी।

आपको बतादें कि सांसद चौधरी ने बंगले से बेदखल किए जाने की प्रक्रिया के खिलाफ याचिका दायर की थी। जो पिटिशन खारिज हो जाने के बाद डायरेक्टर आॅफ इस्टेट ने दिल्ली पुलिस की सहायता से सांसद का जो सामान था उसे घर से बाहर कर दिया।