अमेरिका का बड़ा आरोप, कहा- अब भी कोरोना के आंकड़े छिपा रहा चीन

वाशिंगटन:  अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ ने दावा करते हुए कहा है कि चीन कोरोना वायरस  संबंधी आंकड़ों को अब भी दुनिया से छिपा रहा है और उसे ढकने का प्रयास कर रहा है. पोम्पिओ ने कहा है कि उनके पास इस बात के पर्याप्त प्रमाण हैं कि चीन के वुहान शहर की लैब से ही कोरोना वायरस निकला है.

पोम्पिओ ने एक साक्षात्कार में कहा कि, 'मैंने पर्याप्त सबूत देखे हैं जो बताते हैं कि लैब उम्मीद के हिसाब से काम नहीं कर रही थी, वहां सुरक्षा संबंधी खतरे थे और यह कि वायरस का उद्भव संभवत: वहीं से हुआ है.' उन्होंने आगे कहा कि, 'हमें जवाब चाहिए. लोग अब भी मर रहे हैं.' अमेरिका और बाकी पूरी दुनिया की इकॉनमी की रफ्तार कोरोना महामारी के कारण थम गई है. पोम्पिओ ने कहा कि, 'हमारी इकॉनमी सचमुच संघर्ष कर रही है और यह सब चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के सूचनाओं को दबाने-छिपाने का सीधा नतीजा है. जिसने उन डॉक्टरों को सामने नहीं आने दिया, जो इस वायरस की शुरुआत के संबंध में जानकारी देना चाहते थे. कैसे यह वायरस एक मरीज से दूसरे मरीज में फैला और हमारे पास अब तक उनके जवाब नहीं हैं.'

अमेरिकी विदेश मंत्री ने कहा कि, 'अब 120 दिन से अधिक हो गए हैं, जब चीनी कम्युनिस्ट पार्टी को वायरस के संबंध में पता चल गया था किन्तु वह अमेरिकी लोगों और दुनिया के सर्वश्रेष्ठ वैज्ञानिकों से डेटा छिपा रही है.'

उमरिया में एक साथ जलीं चार चिताएं, शहडोल में दफनाए गए 11 मजदूर

हरियाणा : घर वापसी को लेकर सरकार के पास आया भारी भरकम आंकड़ा

अफगानिस्तान में आर्थिक मांग को लेकर चल रहे प्रदर्शन के बीच हुई गोलीबारी

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -