मिनर्वा पंजाब के मालिक पर अखिल भारतीय फुटबॉल संघ ने बैन लगाया

दिल्ली: मिनर्वा पंजाब एफसी के मालिक रणजीत बजाज पर  रेफरी पर नस्लवादी टिप्पणी करने पर  अखिल भारतीय फुटबॉल संघ  ने बड़ी कार्रवाई की है. बजाज पर एक साल का प्रतिबंध लगा दिया गया है. इस अवधि के दौरान वह फुटबॉल से संबंधित किसी तरह की गतिविधि में शामिल नहीं हो पाएंगे. बता दें कि यहां तक कि एआईएफएफ की छत्रछाया में होने वाले किसी मैच में वह स्टेडियम तक में प्रवेश नहीं कर पाएंगे.

अखिल भारतीय फुटबॉल संघ इसके अलावा उन्हें 10 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया जाएगा 10 दिनों के अंदर जुर्माने की रकम अदा नही करने पर प्रतिबंध की अवधि बढ़ सकती है. एआइएफएफ की ऊषानाथ बनर्जी की अध्यक्षता वाली अनुशासनात्मक कमेटी ने बताया कि बजाज का एक साल में यह चौथा अपराध है. 

गौरतलब है कि मैच अधिकारियों को ही बजाज ने धमकियां देकर नस्लीय टिप्पणियां की दरअसल शिलांग के जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में 12 मई को आइजोल के खिलाफ अंडर -18 यूथ लीग मिनर्वा का मैच 1-1 से ड्रा हो गया था. इसी मैच के दौरान बजाज का मैच रेफरी पी मावथोह से विवाद हो गया था. इस मैच में मैच कमिश्नर बिश्वाजीत मित्रा ने गवाही दी कि उनके सामने ही बजाज ने धमकी दी थी. जिसके बाद बजाज पर कार्यवाही हुई.

विश्व कप के लिए नाइजीरिया की फुटबॉल टीम में लोकोसा शामिल

IPL 2018: तो इस प्रकार प्लेऑफ में पहुंचेगी किंग्स इलेवन पंजाब

इस कारण ट्रोल हुई मारिया शारापोवा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -