Share:
ज्योति मौर्य के बाद बेरोजगार पति को छोड़कर भागी झारखंड की कल्पना, जानिए पूरा मामला
ज्योति मौर्य के बाद बेरोजगार पति को छोड़कर भागी झारखंड की कल्पना, जानिए पूरा मामला

साहिबगंज: इन दिनों यूपी की पीसीएस पदाधिकारी ज्योति मौर्य का मामला ख़बरों में छाया हुआ है। इसी की तर्ज पर साहिबगंज की रहने वाली कल्पना भी अपने बेरोजगार पति को छोड़कर भाग गई। कहा जा रहा है कि बांझी बाजार निवासी कन्हाई पंडित की शादी लगभग 14 वर्ष पहले कल्पना देवी नाम की लड़की से हुई थी। दोनों का एक 10 वर्षीय लड़का भी है।

अशिक्षित कन्हाई पंडित ने अपनी पत्नी को जमशेदपुर में रखकर ANM की पढ़ाई करवाई साथ ही कई निजी चिकित्सालयों में ट्रेनिंग भी दिलवाई। पढ़ाई पूरी होने के बाद कल्पना ने नौकरी शुरू कर दी। इस बीच पत्नी को पढ़ाने में वह कर्जदार हो गया। कर्जों को उतारने के लिए वह कमाने के लिए गुजरात चला गया। जब लौटकर वापस आया तो पत्नी का व्यवहार बहुत बदला-बदला सा लगा। पत्नी छोटी-छोटी बातों पर लड़ रही थी। कन्हाई पंडित ने बताया कि उसकी पत्नी पिछले 14 अप्रैल को अपने मायके जाने का बोलकर गई थी लेकिन जब शाम तक घर वापस नहीं लौटी तो उसने खोजबीन शुरू की। ससुराल वालों ने बताया कि कल्पना यहां नहीं आई है। बहुत खोजबीन करने के बाद भी कुछ पता नहीं चला। फिर कन्हाई पंडित ने बोरियो थाना में पत्नी के गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। 

कन्हाई पंडित ने बताया कि उसकी पत्नी का किसी युवक के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था। वह मेरे बेटे को लेकर फरार हो गई। उसने बताया- मेहनत मजदूरी कर अपनी पत्नी कल्पना कुमारी को ANM का ट्रेनिंग करवाई थी। पढ़ाई पूरी होने के पश्चात कल्पना ने नौकरी शुरू की। लेकिन वह उसे धोखा देकर अपने प्रेमी के साथ भाग गई। मुख्य न्यायायिक दंडाधिकारी साहिबगंज से गुहार लगाते हुए कन्हाई पंडित ने पत्नी कल्पना कुमारी, ससुर राजकिशोर पंडित, सास जयंती देवी, साला धर्मेंद्र पंडित के खिलाफ मुकदमा दर्ज करते हुए करवाई की मांग की। कन्हाई पंडित ने बताया कि उसके सारे जमीन जायदाद के कागज भी पत्नी के पास है। उसकी पत्नी बोलती है कि तुम प्रॉपर्टी क्या करोगे। बेटा तो मेरे पास है बाद में सब बेटा का ही होगा। इसलिए तुम हमें संपत्ति और बेटा सब को भूल जाओ। 

पति को सरप्राइज देने के लिए अचानक शहर पहुंच गई पत्नी, नजारा देखकर उड़े होश और फिर...

कार ड्राइव करने के दौरान हार्ट अटैक आने से हुई कपडा व्यापारी की मौत

ज्योतिरादित्य सिंधिया की राज्यसभा सदस्यता को कोई खतरा नहीं! सुप्रीम कोर्ट ने दी बड़ी राहत

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -