Share:
'जुम्मे की नमाज़ के बाद प्रगति मैदान के लिए कूच करो..', G20 समिट बिगाड़ने के लिए आतंकी पन्नू ने मुस्लिमों को भड़काया
'जुम्मे की नमाज़ के बाद प्रगति मैदान के लिए कूच करो..', G20 समिट बिगाड़ने के लिए आतंकी पन्नू ने मुस्लिमों को भड़काया

नई दिल्ली: खालिस्तानी अलगाववादी और सिख्स फॉर जस्टिस (SFJ) के चीफ गुरपतवंत सिंह पन्नू ने एक ऑडियो संदेश जारी कर घाटी में रहने वाले कश्मीरी मुसलमानों से दिल्ली जाने और G20 शिखर सम्मेलन को बाधित करने के लिए भड़काया है। बता दें कि, दो दिवसीय G20 शिखर सम्मेलन 9 और 10 सितंबर को नई दिल्ली में आयोजित किया जाएगा।

आतंकी पन्नू ने मुस्लिमों से जुम्मे की नमाज़ के बाद प्रगति मैदान तक मार्च करने के लिए भी कहा, जहां शिखर सम्मेलन आयोजित किया जाएगा। यही नहीं उसने दिल्ली के IGI एयरपोर्ट पर खालिस्तानी झंडा फहराने की भी धमकी दी है। पन्नू का ये ऑडियो दिल्ली भर के कई मेट्रो स्टेशनों को खालिस्तान समर्थक भित्तिचित्रों से विरूपित किए जाने के कुछ ही दिनों बाद आया है। भारत विरोधी नारे लगाने पर पुलिस ने SFJ से जुड़े दो लोगों को गिरफ्तार किया है।  अधिकारियों ने कहा कि नारे गुरुपतवंत सिंह पन्नू के आदेश पर लिखे गए थे। बता दें कि, पंजाबी बाग, शिवाजी पार्क, मादीपुर, पश्चिम विहार, उद्योग नगर, महाराजा सूरजमल स्टेडियम और नांगलोई सहित मेट्रो स्टेशनों की दीवारों पर 'दिल्ली बनेगा खालिस्तान' और 'खालिस्तान रेफरेंडम जिंदाबाद' जैसे नारे काले रंग में लिखे हुए पाए गए थे। पश्चिमी दिल्ली में. अधिकारियों का मानना है कि पन्नू के ऑडियो संदेश से आईएसआई और उसके K2 (कश्मीर-खालिस्तान) एजेंडे से उसके संबंध का पता चला है।

उल्लेखनीय है कि, चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को छोड़कर G20 मंच के नेता दो दिनों तक चलने वाले शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए जल्द ही दिल्ली पहुँचने वाले हैं। यह भारत के लिए एक ऐतिहासिक क्षण है क्योंकि यह पहली बार है कि G20 शिखर सम्मेलन यहां आयोजित किया जा रहा है। दिल्ली पुलिस ने कहा कि व्यापक सुरक्षा इंतजाम किए गए हैं और यह सुनिश्चित करने के लिए लगभग 1,30,000 सुरक्षाकर्मी तैनात किए जाएंगे कि कोई घुसपैठ, आतंकवादी कृत्य या तोड़फोड़ न हो। आयोजन स्थलों पर अचूक सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अधिकारी आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) मॉड्यूल का भी इस्तेमाल करेंगे। लेकिन, पन्नू के ऑडियो ने एक चिंता जरूर पैदा कर दी है, यदि जुम्मे की नमाज़ के बाद कुछ मुस्लिम बहकावे में आकर कोई अवांछित कृत्य कर देते हैं, तो इससे दुनियाभर के नेताओं के सामने देश की किरकिरी हो सकती है। 

त्योहार की छुट्टियों में कटौती की आलोचना करने पर बिहार के शिक्षक निलंबित

'हमारा देश, हर हिस्से में बैठकें होंगी..', पीएम मोदी ने कश्मीर-अरुणाचल पर चीन-पाक की आपत्ति पर दिया दो टूक जवाब

उदयनिधि ने की 'सनातन धर्म के विनाश' की अपील, क्या पूरे I.N.D.I.A. गठबंधन की यही सोच ? अमित शाह ने किया सवाल

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -