आखिर क्यों ये कार ग्राहकों के दिल में नहीं बना पाई अपना स्थान

देश में हर साल ढेर सारी कारों को पेश किया जा रहा है, इनमे कुछ की इतनी भारी डिमांड होती है कि उसके लिए कस्टमर को कई माह तक लम्बी प्रतीक्षा करना पड़ता है वहीं इनमें कुछ ऐसी भी कारें होती हैं जिनकी बिक्री बहुत कम या न के बराबर होती हैं. इस वजह से बहुत सी कारों को कंपनियों को बंद भी करना पड़ जाता है. आज हम बताने वाले हैं कुछ ऐसी कारों के बारे में जो बाजार में कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाई. 

शेवरोले एंजॉय: ये कार पेट्रोल और डीजल दोनों इंजन के साथ देश में 2013 में पेश कर दी गई थी. जिसके इंजन में क्रमशः 100 PS की पावर और 131 Nm का टॉर्क और 75 PS की पॉवर पर 172 Nm का टॉर्क आउटपुट भी प्रदान किया जा रहा है. जिसमे 5 स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स भी प्रदान किया जा रहा है. 2017 में यह कार डिसकांटिन्यू किया जा चुका है. 

सुजुकी किजाशी: ऐसा बहुत कम देखने के लिए मिल रहा है कि मारूति की किसी कार को लोगों ने पसंद न किया हो. लेकिन कंपनी की किज़ाशी एक कार ऐसी कार थी जो बाजार में बिल्कुल भी नहीं चल पाया है. जिसकी वजह से इसका अधिक मूल्य और कम माइलेज माना जाता है. यह एक लग्जरी सेगमेंट की पेट्रोल इंजन वाली सेडान कार थी, लेकिन तब डीजल कारों की मांग जयदा रही. 

मशहूर टीवी एक्टर की बिल्डिंग में लगी खतरनाक आग, खिड़की से कूदी लड़की और फिर...

Kylie Jenner का कार कलेक्शन देख उड़ जाएंगे आपके होश

'हर हिन्दू ब्राह्मण है..', JNU के जातिसूचक नारों पर अब हिंदू रक्षा दल ने दिया जवाब

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -