आखिर क्यों दशहरे के दिन खाए जाते है पान और गिलकी के पकौड़े?

आखिर क्यों दशहरे के दिन खाए जाते है पान और गिलकी के पकौड़े?
Share:

दशहरा हिंदुओं के सबसे प्रमुख त्योहारों में से एक माना जाता है. हिंदू पंचांग के मुताबिक, दशहरा अश्विन मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है. इस बार दशहरा 24 अक्टूबर, मंगलवार को मनाया जाएगा. विजयदशमी का त्यौहार बुराई पर अच्छाई का प्रतीक माना जाता है. दशहरा को विजयदशमी के नाम से जाना जाता है. हिंदू मान्यताओं के मुताबिक, इस दिन प्रभु श्री राम ने लंकापति रावण का वध करके माता सीता को उसके चुंगल से आजाद कराया था. इसी वजह से इस दिन रावण, कुंभकर्ण और मेघनाद का पुतला जलाया जाता है. वही इस दिन की कुछ विशेष बातें हैं। जिसमें लोगों को पान पान खिलाने और गिलकी भजिया खाने की परंपरा को बहुत विशेष माना जाता है। आइए आपको बताते हैं कुछ ऐसी ही खास बातें।

दशहरा पर क्यों खाते हैं पान?
पान को विजयी का प्र​तीक माना जाता है। दशहरे पर प्रभु श्री राम ने रावण पर विजय हासिल की थी। इसलिए इस दिन पान खिला कर विजय दिवस मनाया जाता है। पान को ऐश्वर्य का प्रतीक माना जाता है। एक-दूसरे के घर जाकर दशहरे की शुभकामनाएं दी जाती हैं।

आप भी जान लें इस दिन की खास बातें:-
इस दिन प्रभु श्री राम-सीता और हनुमान की विशेष पूजा-अर्चना की जाती है।
इस दिन करोड़ों रुपए के फूलों की बिक्री होती है तथा लोग अपने घर के दरवाजे फूलों की मालाओं से सजाकर उत्सव मनाते हैं।
इस दिन लोग अपनी-अपनी क्षमतानुसार सोना-चांदी, वाहन, कपड़े तथा बर्तनों की खरीददारी करते हैं।
दशहरे पर शमी वृक्ष का पूजन किया जाता है। ऐसी माना जाता है कि महाभारत में पाण्डवों ने इस दिन युद्ध के वक़्त शमी के पेड़ में ही अपने शस्त्र छिपाए थे।
रावण रचित शिव तांडव स्तोत्र से महादेव की आराधना की जाती है।
देशभर में रावण के पुतले जलाए जाते हैं।
दशहरे के दिन शहर-कस्बों और गांवों में श्रीराम-सीता स्वयंवर प्रसंग, रामभक्त हनुमान का लंकादहन कार्यक्रम, रामलीला का बखान करते हुए राम-रावण युद्ध के साथ रावण दहन किया जाता है।
इस दिन खासतौर पर गिलकी के पकौड़े और गुलगुले (मीठे पकौड़े) बनाने का प्रचलन है।
रावण दहन के पश्चात् एक-दूसरे के घर जाकर दशहरे की शुभकामनाएं दी जाती है। गले मिलकर, चरण छूकर आशीर्वाद लिया जाता है। शमी पत्ते बांटे जाते हैं। यह त्योहार बुराई पर अच्छाई की जीत को दर्शाता है। जो लोग नौ दिनों के व्रत रखते हैं वे इस दिन वाहन पूजन करके वाहन से अपने विजय पथ पर निकलते हैं।

आज राशिनुसार अपना लें ये उपाय, बनेंगे बिगड़े काम

आज दशहरा पर जरूर करें इस आरती का पाठ, घर में होगा खुशियों का आगमन

आज इस मुहूर्त पर करें शस्त्र पूजा और रावण दहन

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -