22 साल बाद सरकार ने उठाया बड़ा कदम, इन लोगों को मिलेगा बड़ा फायदा

पटना: बिहार में पढ़ रहे विद्यार्थियों के लिए बड़ी खबर है। तकरीबन 22 वर्ष पश्चात् बिहार के सभी विश्वविद्यालयों में सिलेबस बदलने जा रहा है। सभी विश्वविद्यालयों में अब एक ही सिलेबस होगा। अंडरग्रेजुएट कोर्स का नया सिलेबस अगले एकेडमिक ईयर से लागू हो सकता है। बिहार शिक्षा विभाग ने विद्यार्थियों के आगे के करियर को देखते हुए यह निर्णय लिया है। उच्च शिक्षा विभाग के अनुसार, अब नए सिलेबस नेट, BPSC एवं UPSC की परीक्षाओं को ध्यान में रख कर बनाया जाएगा। 

उच्च शिक्षा निदेशक प्रो रेखा कुमारी के मुताबिक, प्रदेश के विश्वविद्यालयों में नए सत्र में सीबीसीएस के तहत पढ़ाई कराई जाएगी जिसका अर्थ है च्वॉइस बेस्ट क्रेडिट सिस्टम जिसमे अब विद्यार्थियों को नम्बर की जगह ग्रेड और क्रेडिट दिया जाएगा। सिलेबस बदलने की जिम्मेदारी राजभवन की है। इसके लिए अनुरोध पत्र राजभवन को भेज दिया गया है। 

राजभवन कुलपतियों की समिति बनाकर सिलेबस बदलने की प्रक्रिया को पूरा करेगा। तत्पश्चात, राजभवन की ओर से सभी विश्वविद्यालयों को स्नातक का नया सिलेबस भेजा जाएगा। विश्वविद्यालयों को अपनी ओर से 10 से 20 फीसदी स्थानीय सामग्री जोड़ने की छूट होगी। आपको बता दें कि बिहार के विश्वविद्यालयों में स्नातक के सिलेबस में बीते 22 सालों से कोई परिवर्तन नहीं किया गया था। इस के चलते पोस्ट ग्रेजुएशन के सिलेबस तीन बार अवश्य बदले गए हैं। हालांकि पटना विश्वविद्यालय ने 2019 में स्नातक के लिए नया सिलेबस तैयार किया था मगर वो राजभवन में लंबित है। सिर्फ CBCS सिस्टम लागू किया गया है।

अस्पतालों में मरीजों की जिंदगी दांव पर लगी, डॉक्टरों ने किया ऐसा प्रयोग

T20 वर्ल्ड कप: अफ्रीका के खिलाफ राहुल की जगह ओपनिंग करने उतरेंगे पंत ?

T20 वर्ल्ड कप: अफ्रीका के खिलाफ टीम इंडिया के सामने हो सकती हैं ये चुनौतियां

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -