Share:
15 साल के बाद सौरभ ने खोली जुबान, बताई टीम से बाहर जाने की खास वजह
15 साल के बाद सौरभ ने खोली जुबान, बताई टीम से बाहर जाने की खास वजह

सौरव गांगुली के लिए वर्ष 2005 अच्छा नहीं रहा है. जिम्बाब्वे के दौरे से आने के बाद उन्हें कप्तानी से हटाया दिया गया था. जिसके उपरांत टीम से उनका स्थान  भी चला गया था.ग्रेग चैपल उन दिनों टीम इंडिया के कोच हुआ करते थे. ग्रेग चैपल को इंडिया  लाने वालों में सौरव गांगुली ही थे. लेकिन बाद में इन दोनों में कहासुनी हो गई. ये अनबन इंडिया क्रिकेट के इतिहास के सबसे बड़े विवादों में गिना जाता है. सौरव गांगुली ने एक साक्षत्कार में कहा कि उन्हें खुद पर विश्वाश था. ऐसा इसलिए क्योंकि उन्होंने ग्लेन मैग्रा, वसीम अकमर और शोएब अख्तर जैसे गेंदबाजों के विरुद्ध रन बनाए थे. इस बारें में सौरव ने कहा, "मैंने आत्मविश्वास नहीं खोया. मैं जानता था कि अगर मुझे खेलने का मौका मिलेगा तो मैं रन बनाऊंगा. मैदान में मेरे कोच बल्लेबाजी के लिए नहीं जाते थे. वसीम, मैग्रा, शोएब के खिलाफ मैंने बल्लेबाजी की है और मैंने रन बनाए हैं. अगर मैंने सफलतापूर्वक 10 साल ये काम किया है तो मैं आगे भी कर पाऊंगा अगर मुझे मौका मिलता है".

एक सेकेंड के लिए नहीं खोया आत्मविश्वास: सौरव गांगुली ने बताया कि इस पूरे विवाद के दौरान वो 'अपसेट' जरूर थे लेकिन उन्होंने एक सेकेंड के लिए भी आत्मविश्वास खनन नहीं दिया. उन्होंने बताया, "मैं टीम से बाहर किए जाने का इकलौता दोषी चैपल को नहीं ठहराया जा  सकता. लेकिन शुरूआत उन्होंने ही की थी. उन्होंने मेरे विरुद्ध BCCI को एक ईमेल किया. वो ईमेल लीक हुआ. क्रिकेट टीम एक परिवार की तरह होती है. परिवार में सबकी सोच अलग अलग होते हैं, बहस हो सकती है लेकिन सब कुछ बातचीत के द्वारा सुलझाया जा सकता है. अगर आप कोच हैं और मेरे खेल में कोई खास बात चाहते हैं तो आपको बताना चाहिए. बाद में जब मेरी टीम में वापसी हुआ तो उन्होंने ऐसा ही किया. ये काम वो पहले भी कर किया जा सकता था".

दक्षिण अफ्रीका में हुई थी सौरव गांगुली की वापसी: जिसके उपरांत  सौरव गांगुली की टीम में वापसी हुई. दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध सीरीज के लिए सौरव गांगुली टीम में लौटे. उन्होंने प्रैक्टिस मैच में रन हासिल किए. जिसके अतिरिक्त उन्होंने जोहांसबर्ग टेस्ट मैच में भी इंडिया  की जीत में महत्वपूर्ण योगदान दिया था. सौरव गांगुली ने अपने करियर में 311 वनडे मैच खेले. जिनमे उन्होंने 11363 रन बनाए थे. 113 टेस्ट मैचों में सौरव गांगुली के खाते में 7212 रन हैं.

नार्थ ईस्ट राज्यों से बोले पीएम मोदी, कहा- Palmolein की काफी डिमांड, इसकी खेती से देश को होगा फायदा

इस देश के नोट पर विराजित हैं श्री गणेश, जापान में बने हैं 250 मंदिर

उत्तर प्रदेश में मानसून की रफ़्तार हुई धीमी, इन जिलों में हो सकती है तेज़ बारिश

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -