Share:
मुस्लिम बहुल इलाके में गणेश विसर्जन जुलुस पर 'तेज़ाब' से हमला, 3 लोग झुलसे, पुलिस के हाथ खाली !
मुस्लिम बहुल इलाके में गणेश विसर्जन जुलुस पर 'तेज़ाब' से हमला, 3 लोग झुलसे, पुलिस के हाथ खाली !

पटना: बिहार के मोतिहारी में  शुक्रवार (29 सितंबर) को गणपति विसर्जन जुलूस के दौरान एक अराजक घटना घटी. जुलूस के बीच में, अज्ञात व्यक्तियों ने कथित तौर पर प्रतिभागियों पर एसिड फेंक दिया, जिसके परिणामस्वरूप तीन लोग झुलस गए हैं। शहर में गणपति विसर्जन की शोभा यात्रा निकाली जा रही थी। जैसे ही यह यात्रा द्वारदेवी चौक से निकलकर मीना बाजार मुख्य पथ पर मधुबन छावनी चौक पर पहुंचा, कुछ शरारती तत्वों ने जुलूस पर तेजाब फेंक दिया। बता दें कि, मीना बाजार शहर का मुस्लिम बहुल इलाका है, जहाँ सड़क पर एसिड जैसा तरल पदार्थ पड़ा मिला है।

 

एसिड हमले के बाद, गणपति विसर्जन जुलूस में भाग लेने वालों ने जिम्मेदार लोगों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग करते हुए एक स्टैंड लिया। इस घटना के कारण मोतिहारी के मधुबन छावनी चौक पर लगभग एक घंटे तक जाम लगा रहा। इसके बाद, कई स्थानीय भाजपा नेता घटनास्थल पर पहुंचे और गणपति विसर्जन जुलूस को जारी रखने के लिए प्रोत्साहित किया। इसके बाद पुलिस की मदद से प्रतिमा का विसर्जन किया गया। मौके पर मौजूद पुलिस अधिकारियों ने अपराधियों की गिरफ्तारी का आश्वासन दिया है। एहतियात के तौर पर मुख्य सड़क पर पर्याप्त संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया था। पुलिस अधीक्षक कांतेश कुमार मिश्रा ने बताया कि हमले में कितने लोग घायल हुए हैं, इसकी जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा कि पुलिस हमलावरों की तलाश कर रही है। 

 

मोतिहारी पुलिस ने एक्स (पूर्व ट्विटर) पर घटना की जानकारी दी है। जिसमे कहा गया कि इलाके में स्थिति नियंत्रण में कर ली गई है और पुलिस सुरक्षा में मूर्ति विसर्जन संपन्न हो गया है। पुलिस ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है और लोगों से अफवाहों पर न आने का आग्रह किया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, एसिड अटैक में तीन लोगों के घायल होने की खबर है, हालांकि पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की है। घटना की जानकारी होते ही वरिष्ठ पुलिस अधिकारी तुरंत मौके पर पहुंचे। सहायक पुलिस अधीक्षक श्रीराज, नगर थाना के पुलिस निरीक्षक विश्वमोहन चौधरी, छतौनी के कंचन भास्कर और मुफस्सिल थाना के अवनीश कुमार समेत बड़ी तादाद में पुलिस बल मौके पर पहुंचे। उन्होंने जनता से शांति बनाए रखने की अपील की और आश्वासन दिया कि हमले के लिए जिम्मेदार व्यक्तियों को गिरफ्तार किया जाएगा। हालांकि, अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। 

 

बता दे कि, देश में जगह-जगह मुस्लिम बहुल इलाकों में हिंदू जुलूसों पर हमले अक्सर देखे जाते हैं। 29 सितंबर को गुजरात के नर्मदा जिले के सेलाम्बा इलाके में हिंदू संगठनों द्वारा आयोजित शौर्य यात्रा के दौरान मुस्लिम समुदाय के कुछ लोगों का एक समूह कथित तौर पर वहां पहुंचा और पथराव शुरू कर दिया। इसके साथ ही आगजनी भी हुई जिसमें कुछ दुकानों को आग के हवाले कर दिया गया। वहीं, इससे पहले भी दिल्ली, बंगाल, हरियाणा, बिहार में हिन्दू जुलूसों पर हमले की खबरें लगातार सामने आती रहती हैं। इसमें एक बात कॉमन रहती है, ये तमाम हमले मुस्लिम बहुल इलाके में ही होते हैं और हमलों का पैटर्न भी अधिकतर एक जैसा ही रहता है, जैसे छतों से पत्थरबाज़ी करना और आगज़नी करना आदि। 

हिन्दुओं का जुलुस और मुस्लिम बहुल इलाका, मस्जिद से चले पत्थर, दंगाइयों ने दुकानें भी फूंकी, Video

मुस्लिम बहुल इलाके में गणेश विसर्जन जुलुस पर हमला, गणपति की प्रतिमा भी तोड़ी, देखें छतों से हो रहे पथराव का Video

'भारत में अल्पसंख्यकों पर अत्याचार..' ! वाशिंगटन में एस जयशंकर के दो टूक जवाब ने ध्वस्त कर दिया राजनितिक नैरेटिव

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -