राजनाथ-कल्याण पहले खाली करेंगे अपने सरकारी बंगले

लखनऊ : सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद उत्तर प्रदेश के आधा दर्जन पूर्व मुख्यमंत्रियों पर अपने सरकारी बंगले खाली करने का दबाव बढ़ गया है .लेकिन गृहमंत्री राजनाथ सिंह और पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह ने सबसे पहले अपने आवास खाली करने की बात कही है .राजनाथ सिंह ने सरकार को सूचित कर अपने प्रतिनिधि दिवाकर त्रिपाठी को बंगला जल्द खाली करने को कहा है .

बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह को वर्ष 2000 में बतौर मुख्यमंत्री 4, कालिदास मार्ग का आवास मिला था. 2014 में राजधानी से सांसद और गृहमंत्री बनने के बाद लखनऊ प्रवास के दौरान वह इसी बंगले में रुकते हैं. उनका कैंप कार्यालय भी यहीं पर है.वहीं पूर्व मुख्यमंत्री और राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह ने भी सरकारी बंगला तय समय सीमा के अंतर्गत खाली करेंगे . हालाँकि  बंगला खाली करने के लिए 15 का समय दिया गया है.

गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने गत 1 अगस्त को मुलायम सिंह यादव सहित राज्य के सभी छह पूर्व मुख्यमंत्रियों को दो महीने के भीतर सरकारी बंगला खाली करने का आदेश दिया था. शीर्ष अदालत ने माना कि 1997 के जिन नियम के तहत उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री को जिंदगी भर के लिए सरकारी बंगला दिया गया है, उसका कोई कानूनी आधार नहीं है. इसलिए इन्हें उक्त बंगले खाली करने पड़ेंगे.

यह भी देखें

बंगला बचाने के लिए मुलायम योगी के घर पहुंचे

लखनऊ एयरपोर्ट पर टला बड़ा हादसा, उड़ने से पहले फेल हुआ फ्लाइट का इंजन

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -