दो पत्नियां

दो पत्नियां

एक अर्थशास्त्री ने बड़े ही सुंदर तरीके से दो पत्नियों को रखने की व्याख्या दी है ।
--इससे एकाधिकार समाप्त होता है ।
--प्रतिस्पर्धा बनती है जिससे उनकी गुणवत्ता में सुधार बढ़ जाता है ।
--यदि आपके पास एक पत्नी है तो वह आपसे लड़ेगी ।
--यदि आपके पास दो पत्नी हैं तो वे दोनों आपस में आप के लिए लड़ेगी ।
फर्क समझे और फैसला लें.

चेतावनी-- पोस्टकर्ता ऐसा कोई अनुभव नहीं रखता, और न ही किसी दुष्परिणाम की जवाबदारी लेता है... पढ़ने वाले अपने स्वयं के हौसलें और विवेक से काम लें.."" नमस्कार।  

 

राॅकेट चलाने के लिए खाली बोतल

गौरा होने की क्रीम

मरते दम तक पी

यादव जी का चिकन

 

क्रिकेट से जुडी ताजा खबर हासिल करने के लिए न्यूज़ ट्रैक को Facebook और Twitter पर फॉलो करे! क्रिकेट से जुडी ताजा खबरों के लिए डाउनलोड करें Hindi News App