पिता के सम्मान में कमी के कारण इस नेता ने बदली थी पार्टी...

पिता के सम्मान में कमी के कारण इस नेता ने बदली थी पार्टी...

हिमाचल : कैबिनेट मंत्री अनिल शर्मा ने कांग्रेस का साथ छोड़कर अब भाजपा का हाथ थाम लिया है. कैबिनेट मंत्री द्वारा इसके पीछे एक बड़ा कारण भी बताया गया है. अनिल शर्मा ने इसके पीछे बड़ा कारण बताते हुए कहा कि कांग्रेस में उनके पिता को सम्मान नहीं मिलता था, इसके लिए उन्होंने अब भाजपा का दामन थामा है. उन्होंने बातचीत के दौरान बताया कि पूर्व प्रदेश सरकार के द्वारा जब मेरे पिता को पूरा मान-सम्मान न देने के चलते मैंने अपना पुत्र धर्म निभाया, जहां मेरे पिता को इज्जत नहीं बख्शी गई इसलिए मैंने भाजपा ज्वाइन की.

पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह द्वारा पूछे गए सवाल पर अनिल शर्मा ने कहा कि मसे 100 दिन के हिसाब मांगने से पहले अपने 5 साल के कार्यकाल का हिसाब दें. पूर्व मुख्यमंत्री ने अनिल शर्मा से वर्तमान भाजपा सरकार का 100 दिन का हिसाब मांगा था. उन्होंने कांग्रेस पर तंज कस्बे हुए कहा कि यदि पूर्व सरकार के द्वारा ढंग से कार्य किया गया होता तो आज प्रदेश में कांग्रेस सरकार होती. 

कैबिनेट मंत्री अनिल शर्मा ने कहा कि महिलाओं की सुरक्षा की दिशा में अनेक कदम उठाए गए हैं. महिलाओं की सुरक्षा पर बात करते हुए अनिल शर्मा ने कहा कि इसके लिए ‘शक्ति बटन ऐप’ तथा महिलाओं के प्रति हिंसक घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए ‘गुड़िया हैल्पलाइन’ 1515 को शुरू किया गया हैं. 

बीजेपी मतलब बलात्‍कार जनता पार्टी- कमलनाथ

लाउडस्पीकर की जगह व्हाट्सएप पर होगी अज़ान

सीमा पर भिड़ी पाक और अफ़ग़ान की सेनाएं

क्रिकेट से जुडी ताजा खबर हासिल करने के लिए न्यूज़ ट्रैक को Facebook और Twitter पर फॉलो करे! क्रिकेट से जुडी ताजा खबरों के लिए डाउनलोड करें Hindi News App