उत्तराखंड में बद से बदतर होते हालात, बारिश-बाढ़ में 47 लोगों की मौत.. तबाही अब भी जारी

देहरादून: उत्तराखंड में निरंतर मूसलाधार बारिश हो रही है. ऐसे में कई इलाकों में बाढ़ और भूस्खलन की घटनाएं हुईं हैं. यहां उत्तरकाशी में गोमुख ट्रैक पर भारी बारिश की वजह से 25-30 ट्रैकर फंस गए थे. SDRF की टीम ने तमाम ट्रैकर को बचा लिया है. हालांकि, रेस्क्यू के दौरान SDRF टीम को काफी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ा. 

SDRF ने जानकारी देते हुए बताया है कि सोमवार रात इन सभी ट्रैकर्स का रेस्क्यू किया गया. ट्रैकर की टीम गोमुख ट्रेक पर सोमवार को देवगड़ में भूस्खलन के बाद जाम हुई सड़क की वजह से फंस गई थी. घटना की सूचना गंगोत्री पुलिस को मिली. इसके बाद SDRF की टीम घटना स्थल के लिए रवाना हुई और यहां पहुंचकर टीम ने बारिश और कठिन रास्ते के बाद भी ट्रैकर्स का रेस्क्यू करने में सफलता पाई. 

बता दें कि उत्तराखंड में बारिश से सम्बंधित घटनाओं में अब तक 47 लोगों की जान जा चुकी है. इनमें से 42 मरने वाले कुमाऊं क्षेत्र से रहने वाले हैं. वहीं, राज्य के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने मृतकों के परिजनों को चार चार लाख रुपए की आर्थिक मदद देने की घोषणा की है. NDRF ने राज्य में 15 टीमें तैनात की हैं. अब तक बाढ़ प्रभावित इलाकों से 300 लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया है. 

दो दिन की शांति के बाद फिर भड़के पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए आज का भाव

भारत में बढ़ी सोने की मांग के कारण गिरी बचत दर

कुशीनगर को इंटरनेशनल एयरपोर्ट की सौगात देंगे पीएम मोदी, कल होगा दौरा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -