5 राज्यों में बारिश का क़हर, अब तक 465 की मौत

नई दिल्ली: इस बार का मानसून अपने साथ कई घरों के लिए मातम भी लेकर आया है. इस बार सावन शुरू होने से पहले ही बरसात ने देश के कई राज्यों में तबाही मचा रखी है. भीषण बारिश की चपेट में आए देश के 5 राज्यों में अब तक लगभग 465 लोग काल के गाल में समा चुके हैं. इन आंकड़ों की जानकारी गृह मंत्रालय के नेशनल इमरजेंसी रिस्पांस सेंटर (एनईआरसी) द्वारा दी गई है.

केरल में जलप्रलय 3500 लोग बेघर

गृह मंत्रालय ने बरसात और बाढ़ में मारे गए लोगों के आंकड़े जारी किए हैं. आंकड़ों के अनुसार महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा मौतें दर्ज की गई हैं, महाराष्ट्र में कुल 138 लोगों की जिंदगी बारिश ने निगल ली. इसके अलावा केरल में 125, पश्चिम बंगाल में 116, गुजरात में 52 और असम में 34 लोगों की मौत हुई है. एनईआरसी के अनुसार असम में 10.17 लाख लोग बारिश और बाढ़ से त्रस्त हैं, जिनमें से 2.17 लाख लोग राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं.

गुजरात जलमग्न, पीएम का दौरा टला

गृह मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक असम में एनडीआरऍफ़ की 12 टीम राहत और बचाव कार्य में जुटी हुई है. वहीं गुजरात और अन्य राज्यों में भी बचाव कार्य जारी है. घायलों को अस्पताल ले जाया जा रहा है और गोताखोरों द्वारा बाढ़ में लापता हुए लोगों की खोज की जा रही है. 

खबरें और भी:-

बाढ़ समय के खिलाफ एक लड़ाई है-शिंज़ो आबे

बिहार: पिछले साल आई बाढ़ का मुआवजा अभी तक नहीं, करोड़ों लोग थे प्रभावित

जापान में बारिश का कहर बाढ़ और बारिश से 49 मौत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -