बिकरू हत्याकांड: यूपी के 37 पुलिसकर्मी दोषी, DGP से एक्शन की सिफारिश

Nov 21 2020 09:01 AM
बिकरू हत्याकांड: यूपी के 37 पुलिसकर्मी दोषी, DGP से एक्शन की सिफारिश

लखनऊ: कानपुर के चौबेपुर के बिकरू गांव में पुलिस टीम पर हमला कर सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या मामले में यूपी सरकार ने SIT की रिपोर्ट के बाद अब एक्शन तेज कर दिया है. राज्य के गृह विभाग ने उन 37 पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं, जिन्हें इस मामले में दोषी पाया गया है. SIT की रिपोर्ट में दबिश देने गई पुलिस टीम पर हमले और सीओ समेत आठ पुलिसकर्मियों की हत्या मामले में 37 पुलिसकर्मियों को दोषी पाया गया है. गृह विभाग ने DGP से 37 दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने की सिफारिश की है.

इससे पहले, कानपुर में गैंगस्टर विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे के खिलाफ मामला दर्ज किया गया था. ऋचा दुबे के खिलाफ फर्जी ID के माध्यम से सिम लेने के मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई थी. बिकरू कांड में गैंगस्टर विकास दुबे के खात्मे के बाद अब विकास की पत्नी ऋचा दुबे पुलिस के निशाने पर आ चुकी है. ऋचा पर बिकरू कांड के बाद सिम कार्ड के इस्तेमाल और दस्तावेजों से खिलवाड़ और गुमराह करने का आरोप है. यह भी आरोप है कि उसे पूरे घटनाक्रम के बारे में पता था और वह विकास दुबे के काले कारनामों में भी शामिल थी.

बिकरू हत्याकांड के पश्चात विकास दुबे की पत्नी ऋचा दुबे को पुलिस ने क्लीन चिट देकर छोड़ दिया था. किन्तु SIT की रिपोर्ट में हुए चौकाने वाले खुलासे से ऋचा का बचना मुश्किल हो गया. क्योंकि SIT की रिपोर्ट में पता चला है कि ऋचा, उसके रिश्तेदार, और विकास के खास गुर्गे फर्जी आईडी से सिम लेते थे. विकास का परिवार फर्जी आईडी से लिए गए सिम का उपयोग करता था.

बायोएनर्जी जनरेशन में बड़े निवेश पर टिकी है सरकार की निगाहें

आईटी तकनीकी अपग्रेड: AY20-21 के लिए आपकी आयकर वापसी में हो सकती है देरी

एलएंडटी टेक्नोलॉजी सर्विसेज में हुआ ये बदलाव