यमन में 20 भारतीयों की मौत की खबर गलत : विदेश मंत्रालय

नई दिल्ली : यमन में हवाई हमले में करीब 20 से अधिक भारतीयों के मारे जाने की सूचना को विदेश मंत्रालय द्वारा गलत बता दिया गया है। हाल ही में इस बारे में कहा गया है कि हूदीदाह बंदरगाह पर 2 जहाजों के माध्यम से तेल की तस्करी की जा रही थी। तस्करी के दौरान माल को नाव से ले जाया जा रहा था। इस नाव में 11 लोग सवार थे। एक अन्य नाव भी करीब 9 लोगों को लेकर जा रही थी। इन नावों पर बम गिरे और नौकाऐं तबाह हो गईं। इन नौकाओ में मारे जाने वालों में क्रू मेंबर भी शामिल थे जो कि भारतीय थे। कहा गया है कि इन नावों में से एक नाव में सवार 3 लोगों की जानकारी नहीं मिल सकी है। 

ये लापता बताए जा रहे हैं वहीं अन्य लोगों को सुरक्षित बताया जा रहा है। दूसरी ओर यह बात सामने आई है कि हमले अल खोखा क्षेत्र में हुआ, जो कि हूदीदाह बंदरगाह के समीप हुआ। मामले में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा कि रिपोर्ट की जांच की जा रही है। उल्लेखनीय है कि इसके पहले यह बात सामने आई थी कि यमन में गठबंधन सेना के हवाई हमले में 20 भारतीय नागरिक मारे गए इन हमलों में तेल तस्करों को निशाना बनाया गया था। इस सेना का नेतृत्व सऊदी सरकार द्वारा किया गया था। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -