भारतीय टीम के लिए दो कोच होने चाहिए : चेतन

Aug 26 2015 05:13 PM
भारतीय टीम के लिए दो कोच होने चाहिए : चेतन

भारत के पूर्व तेज गेंदबाज चेतन शर्मा ने भारतीय टीम के लिए दो कोच रखने के बोर्ड के विचार का समर्थन किया है. चेतन ने कहा है कि दोनों कोचों को टीम के वर्तमान निदेशक रवि शास्त्री की छत्रछाया में काम करना चाहिए. शर्मा ने एक साक्षात्कार में कहा, "चर्चा चल रही है कि टेस्ट और सीमित ओवरों के लिए दो कोच होने चाहिए. यह गलत विचार नहीं है क्योंकि टेस्ट मैच क्रिकेट के बाकी प्रारूपों से अलग है. कुछ खिलाड़ी सिर्फ एकदिवसीय मैच खेल सकते हैं और कुछ टेस्ट मैच तो फिर हम दोनों प्रारूपों के लिए विशेषज्ञ कोच क्यों नहीं रख सकते.

मैं दो कोचों के लिए सहमत हूं लेकिन उन्हें रवि शास्त्री की छत्रछाया में रखा जाए. जिम्बाब्वे के डंकन फ्लेचर द्वारा मार्च में हुए विश्व कप के बाद कोच के पद से इस्ताीफा दिए जाने के बाद से भारतीय टीम के पास कोई कोच नहीं है. इसके बाद पूर्व भारतीय कप्तान शास्त्री को टीम का निदेशक नियुक्त किया गया. अंतराष्ट्रीय स्तर पर हैट्रिक दर्ज कराने वाले पहले भारतीय गेंदबाज शर्मा चाहते हैं कि एक भारतीय ही टीम का कोच बने. उन्होंने कहा, "मैं हमेशा से ही भारतीय कोच के पक्ष में रहा हूं.

भारत के बड़ा देश है और इसकी संस्कृति, स्थिति और भारतीय विकटों को समझने में समय लगता है और एक विदेशी कोच को इन्हें समझने में साल भर लगेगा. शर्मा ने विराट कोहली की तारीफ करते हुए उन्हें आक्रामक और हमलावर कप्तान बताया. उन्होंने कहा, "विराट काफी आक्रामक हैं और हों भी क्यों न? एक हमलावर कप्तान जहां अपने पहले 5-7 मैच हार जाएगा लेकिन एक अच्छी शुरुआत के बाद वह अगले 20 मैच जीत भी जाएगा और यह बड़ी जीतें ही कप्तान में एक बड़े बदलाव लाती है. मैंने यह खुद देखा है.