आपकी पत्नी के हैं तीन पति, जानकर चौक जाऐंगे आप!

क्या आप जानते हैं जिससे आपने शादी की है उसके विवाह के पहले ही तीन पति हैं. ऐसा हर स्त्री के साथ होता है. जब आपको यह पता पड़ रहा होगा तो आप पर क्या बीत रही होगी. मगर घबराईये नहीं ऐसा होता है वैदिक परंपरा के अनुसार, जी हां, यदि आप पंडित के द्वारा पढ़ाए जाने वाले मंत्रों का अर्थ ठीक तरह से जान लेते हैं तो आपको पता चलता है कि विवाह के समय आप मंडप में बैठ जाते हैं।

आप से पहले दुल्हन का अधिकार तीन लोगों को भी सौंपा जाता है. वैदिक परंपरा में मान्यता है कि महिला चार लोगों को पति बना सकती है. स्त्री की पतिव्रता को बनाए रखने के लिए विवाह के समय उसका सांकेतिक विवाह तीन देवताओं से हो जाता है। 

सबसे पहले चंद्रमा, फिर विश्वावसु और फिर गंधर्व को और फिर अग्नि को अधिकार दिया जाता है. द्रोपदी ने भी इस परंपरा के चलते चार पति स्वीकार किए थे. इन विधियों के बाद कन्या का अधिकार उसके पति को सौंप दिया जाता है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -