Share:
1 साल के लिए सीएम बनेंगी वसुंधरा राजे ? राजस्थान भाजपा में घमासान भारी, महारानी के घर विधायकों का पहुंचना जारी
1 साल के लिए सीएम बनेंगी वसुंधरा राजे ? राजस्थान भाजपा में घमासान भारी, महारानी के घर विधायकों का पहुंचना जारी

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री के रूप में भाजपा की पसंद पर सस्पेंस और अटकलें जारी रहने के बावजूद, 10 से अधिक विधायकों ने रविवार को जयपुर में सिविल लाइंस स्थित पूर्व सीएम वसुंधरा राजे से उनके आवास पर मुलाकात की। नवनिर्वाचित भाजपा विधायकों ने चुनाव के दौरान उन्हें दिए गए समर्थन के लिए उन्हें धन्यवाद देने के लिए सुबह से ही राजे के आवास पर जाना शुरू कर दिया। जहां भाजपा नेताओं ने इन दौरों को 4, 5 और 6 दिसंबर को विधायकों के दौरों की अगली कड़ी बताया, वहीं कुछ ने इस कवायद को राजे का शक्ति प्रदर्शन करार दिया। 

 

पूर्व सीएम के एक करीबी सहयोगी ने कहा कि, 'राजे ने अपने करीबी सहयोगियों और उन लोगों के समर्थन में 54 चुनावी रैलियां कीं, जिन्होंने उनसे सार्वजनिक संबोधन आयोजित करने का अनुरोध किया था। वे उसे धन्यवाद देने के लिए उसके पास आ रहे हैं। कुछ अधिक कहना अति-व्याख्या होगी।' राजे की टीम ने विधायकों के साथ उनकी बैठकों पर आधिकारिक तौर पर टिप्पणी करने से इनकार कर दिया है। रविवार को उनसे मिलने वाले पार्टी विधायकों में अजय सिंह किलक और बाबू सिंह राठौड़ भी शामिल थे। मंगलवार को भी किलक ने उनसे मुलाकात की थी। इस बीच सूत्रों के हवाले से ये जानकारी भी सामने आई है कि, नड्डा ने वसुंधरा को विधानसभा स्पीकर बनने का प्रस्ताव दिया था, जिसे उन्होंने इंकार कर दिया। सूत्रों का कहना है कि, वसुंधरा राजे ने एक साल के लिए सीएम पोस्ट मांगी है और कहा है कि उसके बाद वो खुद पद छोड़ देंगी। हालाँकि, इस बारे में कुछ भी आधिकारिक सामने नहीं आया है, सूत्रों का कहना है कि, नड्डा और वसुंधरा के बीच फोन पर ये बात हुई है

राजे चार दिनों के लिए (बुधवार से शनिवार तक) दिल्ली में थीं और उन्होंने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात की और कथित तौर पर सीएम पद के लिए अपना मामला पेश किया। सीएम उम्मीदवार चुनने के लिए बीजेपी मंगलवार को जयपुर में विधायक दल की बैठक कर सकती है। कंवरलाल मीणा समेत पार्टी के कई विधायकों ने सीएम के तौर पर राजे को खुला समर्थन दिया है। भाजपा के एक सूत्र ने कहा कि, ''केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह समेत पार्टी के तीन केंद्रीय पर्यवेक्षकों के सोमवार शाम को जयपुर आने की संभावना है।''

MP के लिए तय हो गए है मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के नाम, CM शिवराज के साथ पार्टी के प्रदेश कार्यालय पहुंचे पर्यवेक्षक

झारखंड जमीन घोटाला: 5 बार नोटिस भेजे, लेकिन नहीं आए मुख्यमंत्री ! अब पूछताछ के लिए हेमंत सोरेन को एक बार फिर ED का समन

चक्रवात के बाद स्कूलों की सफाई के लिए स्टालिन सरकार ने जारी किए 1.90 करोड़ रुपये, प्रभावित लोगों को मिलेंगे 6000

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -