कब और कितना प्रोटीन लेने से बनती है शानदार बॉडी

हर शख्स के लिए अपनी जरूरत भर का प्रोटीन नेचुरल फूड से जुटा पाना आसान नहीं होता। इसके अलावा मिडिल और एडवासं लेवल पर बॉडीबिल्डिंग कर रहे लोगों को आगे बढ़ने के लिए फूड सप्लीमेंट की जरूरत पड़ जाती है। प्रोटीन सप्लीमेंट बॉडी बिल्डिंग को आसान बना देते हैं। आजकल जिम गोअर्स काफी प्रोटीन का इस्तेमाल करते हैं। प्रोटीन का सही मात्रा में इस्तेमाल हमारी बॉडी को ग्रो करने में काफी मददगार हैं। चलिए जानते हैं कि आखिर कितनी मात्रा में और कितनी बार प्रोटीन लेना चाहिए।

सामान्य तौर पर कसरत करने वालों को कम से कम दो बार प्रोटीन सप्लीमेंट लेना चाहिए। इसमें एक वक्त कसरत करने के बाद और दूसरा रात के समय। अगर आप लीन बॉडी बना रहे हैं तो कम से कम तीन टाइम, जिसमें प्री वर्कआउट शामिल है। अगर आप दुबले पतले हैं तो प्री वर्कआउट में प्रोटीन सप्लीमेंट लेने की बजाए कार्बोहाइड्रेट लें। बॉडी मेनेटेन करने वाले या सामान्य तौर पर कसरत वालों को प्री वर्कआउट में ज्यादा कार्ब और थोड़ा सा प्रोटीन ले लेना चाहिए, सप्लीमेंट नहीं लेंगे तो भी चलेगा।

प्री वर्कआउट में ज्यादा प्रोटीन उन लोगों के लिए ठीक है जो लीन मसल्स बना रहे हैं। लीन मसल्स बनाने में लगे लोग प्री वर्कआउट में कार्बोहाइड्रेट के साथ अच्छी मात्रा में प्रोटीन सप्लीमेंट लेते हैं। एक्सरसाइज के दौरान हमारी बॉडी ग्रोथ हार्मोन रिलीज करती है। मगर उनका फायदा मसल्स बिल्डिंग में तभी होगा जब आपकी बॉडी में प्रोटीन होगा। कसरत के बीस से तीस मिनट के भीतर प्रोटीन की उम्दा खुराक लेनी चाहिए।

कसरत करने के दौरान आपके मसल्स में मौजूद कई न्यूट्रिएंट्स खप जाते हैं। सोने के बाद ही बॉडी में मरम्मत का काम शुरू होता है। मरम्मत के लिए बॉडी को प्रोटीन की जरूरत होती है। वो लोग खासतौर पर इस बात का ध्यान रखें जो दुबले पतले हैं रात को उन्हें बॉडी में प्रोटीन की अच्छी मात्रा रखनी है। आपकी जरूरत 100 ग्राम प्रोटीन की है तो कम से 25 ग्राम की डोज आपको रात को देनी होगी।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -