अप्रैल की शुरुआत से पहले ही बदल गए मौसम के मिजाज़, सप्ताह भर हो सकती है इन राज्यों में बारिश
अप्रैल की शुरुआत से पहले ही बदल गए मौसम के मिजाज़, सप्ताह भर हो सकती है इन राज्यों में बारिश
Share:

नई दिल्ली: अप्रैल का माह शुरू होने को सिर्फ 1 दिन बचा है। लेकिन, इस बार गर्मी देरी से दस्तक देने वाली है। मौसम विभाग ने आने वाले कुछ दिन समूचे उत्तर भारत में झमाझम वर्षा होने की सम्भावना भी जताई जा रही है। अफगानिस्तान और ईरान से आने वाले दो पश्चिमी विक्षोभ के कारण से इस बार हीटवेव आने में देरी हो रही है। IMD ने अगले दो दिन जम्मू कश्मीर से राजस्थान तक 17 राज्यों में अगले दो दिन जमकर वर्षा का अनुमान भी जताया है। हिमाचल, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली और पूर्वी राजस्थान में ओलावृष्टि की भी संभावना है। खबरों का कहना है कि अगले दो हफ्ते हीटवेव नहीं रहना चाहिए। इसके पीछे बड़ी वजह दो पश्चिमी विक्षोभ हैं। पहला पश्चिमी विक्षोभ अफगान से आगे बढ़ते हुए 27 मार्च को जम्मू कश्मीर पहुंच गया था। दूसरा पश्चिमी विक्षोभ ईरान से होते हुए पूर्व की दिशा में बढ़ रहा है। यह 29 मार्च को पाक में देखा गया था। 

अगले दो कैसा रहेगा मौसम: बता दें कि IMD ने अगले दो दिन समूचे उत्तर भारत में अत्यधिक वर्षा और कई राज्यों में ओलावृष्टि का भी अनुमान जताया है। हिमाचल प्रदेश और पंजाब में भारी वर्षा और ओलावृष्टि की संभावना है। साथ ही पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, राजस्थान, वेस्ट बंगाल सहित कई राज्यों में मूसलाधार बारिश और ओलावृष्टि भी देखने के लिए मिल सकती है। जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद में भी भारी वर्षा होने का अनुमान भी लगाया जा रहा है। इतना ही नहीं  तमिलनाडु, केरल और तेलंगाना में भी आने वाले कुछ दिन अत्यधिक वर्षा हो सकती है। कर्नाटक के कुछ भागों को छोड़कर दक्षिण भारत के सभी राज्यों में अत्यधिक बारिश की संभावना है।

सप्ताहभर ऐसा ही रहेगा मौसम: IMD ने इस बारें में कहा है कि पश्चिमी विक्षोभ के चलते पूरे हफ्ते  ऐसा ही मौसम बना रह सकता है। विक्षोभ की वजह से पश्चिमी हिमालयी राज्यों में गरज के साथ बारिश भी हो सकती है। इसमें जम्मू कश्मीर, पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, पूर्वी और पश्चिमी राजस्थान राज्य का नाम भी जुड़ चूका है।  हालांकि विक्षोभ का अधिकतर असर दक्षिण प्रायद्वीपीय और मध्य में पड़ेगा। यहां वर्षा की गतिविधि सामान्य से अधिक रहने का अनुमान भी लगाया जा रहा है। 

पूर्वी राज्यों में 3 अप्रैल तक बारिश के आसार: वहीं IMD ने आगे कहा है कि पूर्वोत्तर भारत के राज्यों में 3 अप्रैल तक तेज हवाओं, आंधी और बिजली गिरने का भी अनुमान लगाया गया है। यहां भारी वर्षा हो सकती है। यहां असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, अरुणाचल प्रदेश और त्रिपुरा में भारी वर्षा  होने का अनुमान लगाया जा रहा है।

एक ही दिन में दो बार वडोदरा में हुआ पथराव

एक बार फिर दिल्ली के मौसम ने की करवट, हो सकती है कई इलाकों में झमाझम बारिश

इंदौर हादसे में 13 तक पहुंचा मौत का आंकड़ा, CM शिवराज ने किया मुआवजे का ऐलान

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -