स्वच्छ भारत मिशन की प्रमुख विजयलक्ष्मी ने ली स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्रारंभ किए गए स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत कार्य करने वाले स्वच्छ भारत मिशन की प्रमुख और गुजरात कैडर की आईएएस विजयलक्ष्मी जोशी ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली है। उनके इस तरह के निर्णय से यह अभियान प्रभावित हुआ है। मिली जानकारी के अनुसार अभी सुश्री जोशी का कार्यकाल 3 वर्ष का और बचा था। दरअसल सुश्री जोशी के पास पेयजल और सेनिटेशन मंत्रालय का कार्य भी था, वे इस विभाग की सचिव थीं। केंद्रीय सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति के बढ़ते कदमों से मंत्रालय स्तर पर गंभीरता छा गई है। 

दरअसल लगातार अधिकारियों द्वारा स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति ली जा रही है। हाल ही में केंद्रीय गृह सचिव पद से एलसी गोयल द्वारा सेवानिवृत्ति देने के बाद इस तरह के कदमों को बेहद गंभीर माना जा रहा था। गृह सचिव द्वारा इस संबंध में कहा गया कि अनिल गोस्वामी पर शारदा चिटफंड घोटाले के केस में पूर्व केंद्रीय मंत्री मतंग सिंह को बचाए जाने का आरोप भी लगा। एलसी गोयल द्वारा स्वेच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली। यही नहीं उनका यह पद वर्ष 2017 तक था, मगर उन्होंने पहले ही स्वेच्छिक सेवानिवृत्ति ले ली और उसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वीकार कर लिया। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -