‘बंटी’ बनकर 3 बच्चों के अब्बा ने हिन्दू लड़की को फंसाया, कई बार किया बलात्कार, धर्मान्तरण कर निकाह का दबाव

देहरादून: देवभूमि उत्तराखंड से ‘लव जिहाद’ का एक मामला प्रकाश में आया है। अंबाला की रहने वाली कंचन नामक एक युवती ने उत्तराखंड के एक मुस्लिम युवक पर धर्म छुपाकर रिश्ता रखने और फिर धर्म परिवर्तन का दबाव डालने का इल्जाम लगाया है। युवती ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि, 'मैं अंबाला की रहने वाली हूँ। 4-5 वर्ष पूर्व अंबाला में एक एंबुलेंस वाले से मेरी मुलाकात हुई थी। वो मेरे अस्पताल में आया था। उसने अपना नाम बंटी बताया था।'

युवती ने बताया कि, बंटी खुद को हिंदू बताकर मेरे साथ रिलेशनशिप में आया था। उसने मेरे कुछ वीडियो बनाए, जिसके चलते उसने मुझे शादी के झाँसे में लिया। उसने अस्पताल खोलने के नाम पर झूठ बोलकर मुझे देहरादून बुलाया। यहाँ आकर मुझे पता चला कि वह विवाहित है और तीन बच्चों का पिता है। कंचन ने आगे बताया कि, 'जब मैंने पीछे हटने की कोशिश की, तो उसने मुझे ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया। कहा कि मुझ से शादी करो। मुस्लिम बनो। जब मैंने इंकार किया, तो उसने मेरे वीडियो वायरल कर मेरी फैमिली में भेजना शुरू कर दिया। इसके चलते मुझे उसके साथ रिश्ता रखना पड़ा। 

कंचन ने आगे बताया कि, एक रात में मेरी तबीयत खराब थी, ग्लूकोज चढ़ रहा था तो वह अस्पताल में आया और कहा कि मेरे कमरे पर चल। मैंने इंकार किया तो मेरे और मेरे स्टाफ के साथ मारपीट की। मैंने मामले में शिकायत दर्ज कराई है। मैं बस इतना चाहती हूँ कि मुझे न्याय मिल जाए और उसने जो मेरा पैसा ले रखा है, वह मिल जाए।' कंचन ने बताया कि वह पेशे से स्टाफ नर्स है। मामले में हिंदू संगठनों ने ‘लव जिहाद’ का आरोप लगाते हुए आरोपित के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की माँग की है। 

3 महीने तक नाबालिग भतीजी का बलात्कार करता रहा चाचा, जब गर्भवती हुई तो खुला राज

भीलवाड़ा: समुदाय विशेष के लोगों ने चाक़ू गोदकर की आदर्श की हत्या, हिन्दू संगठनों ने किया बंद का ऐलान

मदरसे में 6 वर्षीय मासूम का बलात्कार करने वाले मौलवी को उम्रकैद, फैसला सुनाते हुए भावुक हुए जज

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -