सम्भल से भागे तीनों कैदियों पर था इकराम हत्याकांड का आरोप, 20 जुलाई को होनी थी सजा

Jul 18 2019 06:01 PM
सम्भल से भागे तीनों कैदियों पर था इकराम हत्याकांड का आरोप, 20 जुलाई को होनी थी सजा

सम्भल: सम्भल में पुलिस कर्मियों की आंखों में मिर्च पाउडर झोंककर दो पुलिसकर्मियों की हत्या करने वाले और सिपाही की रायफल छीनकर फरार होने वाले कैदियों पर मुरादाबाद में 2014 में हुए चर्चित इंजीनियर इकराम हत्याकांड का इल्जाम हैं. तीनों कैदियों की शिनाख्त शकील, धर्मपाल और कमल के तौर पर हुई है. कमल ने वर्ष 2014 कार में लिफ्ट देने के बहाने इंजीनियर इकराम को अगवा किया था और 20 लाख की फिरौती लेने के बाद इंजीनियर इकराम को मार डाला था. 

मुरादाबाद पुलिस ने इंजीनियर की हत्या के जुर्म में शकील, धर्मपाल, कमल सहित 5 आरोपियों को जेल भेजा था. इंजीनियर हत्याकांड का मामला मुरादाबाद अदालत में चल रहा है. 2 दिन बाद यानि 20 जुलाई को इस मामले में अदालत को फैसला सुनाना था. फैसले में तीनों आरोपीयों को सजा होनी तय थी. इसी सजा से बचने के लिए तीनों ने फरार होने की योजना बनाई.

सिपाहियों की हत्या करने के बाद फरार हुए तीनों कैदी शातिर अपराधियों की सूची में आती है. पुलिस की प्रारंभिक जांच में फरार कैदियों के खौफनाक इरादे सामने आए हैं. पुलिस तीनों अपराधियों की खोज कर रही है. पुलिस ने अपराधियों को तलाशने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लिया है. संभल पुलिस ने सोशल मीडिया पर तीनों अपराधियों की तस्वीर और डीटेल्स डाली हैं. 

कंपनी कानून और आइबीसी में संशोधन विधेयकों को मोदी सरकार ने दी मंजूरी

भूषण पावरप्लांट का एक और फ्रॉड हुआ उजागर, PSB को लगाई 238 करोड़ की चपत

इस सप्ताह तीन डॉलर प्रति बैरल सस्ता हुआ क्रूड आयल, क्या घटेगी पेट्रोल-डीज़ल की कीमतें ?