UPPSC परीक्षा में सफल होने के लिए है यह मूलमंत्र

UPPSC परीक्षा में सफल होने के लिए है यह मूलमंत्र

UPPCS 2019 में जिन 300 सीटों के लिए आवेदन मांगे गए हैं, उनके लिए सीटों की संख्या से केवल 13 गुना ज्यादा अभ्यर्थियों को ही मुख्य परीक्षा के लिए चुना जाएगा। इसे देखते हुए प्री परीक्षा उत्तीर्ण करने के लिए आपको कम-से-कम 105 प्रश्न से लेकर 110 प्रश्न सही करने का टारगेट लेकर चलना होगा। अब प्रश्न उठता है कि 110 प्रश्न सही करना कैसे संभव है?

सर्वप्रथम इतिहास विषय को लें। इतिहास में लगभग 25 लेकर 30 तक प्रश्न आते हैं, जिनमें से 65-75% प्रश्न आधुनिक भारत के होते हैं। यानी 15 से लेकर 20 प्रश्न तक। कोशिश करें कि आधुनिक भारत में से आपका कोई प्रश्न गलत न हो। प्राचीन भारत व मध्यकालीन भारत में जितने महत्वपूर्ण टॉपिक हैं, उन्हें जरूर तैयार कर लें। इतिहास में किसी स्टैंडर्ड किताब के साथ-साथ घटनाक्रम जरूर पढ़ लें। ताकि विगत वर्षों में पूछे गए प्रश्न यदि पेपर में आए, तो गलत न हो। भूगोल विषय से भी 20-25 प्रश्न आते हैं, जिसमें से लगभग 50-60 प्रतिशत भारत का भूगोल से होते हैं। भूगोल को बिना मानचित्र के कभी मत पढ़िए। मानचित्र के बिना भूगोल कभी आत्मसात नहीं होगा। भूगोल से भी प्रयास करें कि 1-2 सवालों को छोड़कर सभी प्रश्न सही हों। अधिकांश प्रतियोगियों का भारत का भूगोल तो अच्छा तैयार होता है, लेकिन विश्व भूगोल थोड़ा बड़ा और दुरुह है, अतः अधिकांश प्रतियोगी विश्व भूगोल में कठिनता महसूस करते हैं।
 
लेकिन मैं आपसे कहना चाहूंगा कि विश्व भगोल पर विशेष ध्यान दीजिए। यही वह क्षेत्र है जहां आप औरों से बढ़त बना सकते हैं। संविधान से लगभग 15-20 प्रश्न आते हैं। चूंकि संविधान से जो प्रश्न पूछे जाते हैं, वो सैद्धांतिक होते हैं, अतः याद करने के साथ-साथ कॉन्सेप्ट की समझ होना भी जरूरी है। प्रयास करें कि संविधान से पूछे गए आपके सभी उत्तर पूर्णतः सही ही हों। करंट अफेयर्स से लगभग 25-35 प्रश्न पूछे जाते हैं। प्रयास करें कि आपके 2-3 प्रश्नों को छोड़कर सभी प्रश्न सही हों। 2-3 प्रश्न तो ऐसे अवश्य ही आते हैं जो आपको किसी किताब, मैगजीन आदि में नहीं मिलेंगे। तो ऐसे प्रश्नों की परवाह मत कीजिए। प्रयास कीजिए कि पढ़ा हुआ कोई भी प्रश्न आपका गलत न। अब डेली करेंट अफेयर्स पर विषेश फोकस कीजिए।
 
कोई स्तरीय राष्ट्रीय समाचार पत्र तथा बढ़िया मैगजीन पढ़ना आपके डेली डोज में हो और लगभग 1 घंटा करेंट अफेयर्स को रोज दीजिए। करेंट अफेयर्स को हल्के में लेना या कम ध्यान देना आत्मघाती हो सकता है। लेकिन करेंट अफेयर्स पर इतना भी ताकत मत लगा दीजिए कि पारंपरिक विषयों (जैसे इतिहास, भूगोल) पर आवश्यक ध्यान न दे पाएं। साइंस से लगभग 10-15 प्रश्न पूछे जाते हैं, जिनमें से अधिकांश प्रश्न बायोलोजी व केमिस्ट्री से होते हैं। अर्थशास्त्र से भी 10-15 प्रश्न पूछे जाते हैं। जिसमें से अधिकांश करेंट अफेयर्स पर ही आधारित होते हैं। जनसंख्या पर 5-10 प्रश्न होते हैं तथा पर्यावरण से करीब  10-20 प्रश्न तक पूछे जाते हैं। प्रयास कीजिए कि पर्यावरण व जनसंख्या में से आपका कोई प्रश्न गलत न हो। चूंकि जनसंख्या व पर्यावरण दोनों को मिलाकर 15-20 प्रश्न आएंगे। उत्तर प्रदेश से लगभग 10-15 प्रश्न पूछे जाएंगे। जिसमें से कुछ प्रश्न वर्तमान उत्तर प्रदेश सरकार की योजनाओं पर आधारित होंगे। अतः उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं पर विशेष ध्यान दीजिए। इतना कर लेने पर आपका सिलेक्शन पक्का है।  

10वीं पास करें आवेदन, सैलरी 26900 रु

लेखा सहायक और प्रोग्राम अधिकारी के पदों पर वैकेंसी, वेतन 21000 रु

लेखा अधिकारी के पदों पर जॉब ओपनिंग, सैलरी 30000 रु