मायावती ने बुलाई पार्टी पदाधिकारियों की बैठक, हो सकता है ये बड़ा फैसला

लखनऊ: देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश चुनाव का ऐलान होने के पश्चात् बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने पार्टी पदाधिकारियों की मीटिंग बुलाई है जिसमें वह उम्मीदवारों पर फैसला लेंगी। उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग ने पांच प्रदेशों में चुनाव का ऐलान किया है। मुख्य चुनाव आयोग ने जो भी चुनाव आचार संहिता लागू की है। हमारी पार्टी उसका पालन करेगी।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मैंने लखनऊ प्रदेश दफ्तर में प्रत्याशियों के फाइनल चयन करने को लेकर पार्टी के विशेष लोगों की मीटिंग बुलाई है। वही निर्वाचन आयोग ने प्रेस वार्ता करते हुए बताया कि यूपी में 7 चरणों में मतदान कराया जाएगा. इसके तहत 10 फरवरी से 7 मार्च तक मतदान होगा. यूपी विधानसभा चुनाव के परिणाम 10 मार्च को जारी किए जाएंगे. चुनाव आयोग के अनुसार, उत्तर प्रदेश में 10 फरवरी को प्रथम चरण के तहत मतदान होगा.

तत्पश्चात, 14 फ़रवरी को दूसरे, 20 फ़रवरी को तीसरे चरण, 23 फरवरी को चौथे, 27 फरवरी को पांचवे, 3 मार्च को छठे और 7 मार्च को सातवें चरण का मतदान होगा. निर्वाचन आयोग ने शनिवार को प्रेस वार्ता में कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण 15 जनवरी तक रोड यात्रा, पदयात्रा, बाइक रैली, साइकिल यात्रा और फिजिकल रैली पर पूरी तरह से पाबंदी रहेगी. 

महिलाओं को चुनाव में 40% टिकट से लेकर सरकारी नौकरी तक, यूपी चुनाव में कांग्रेस ने किए ये वादे

आचार संहिता लागू होते ही क्यों 'निहत्थी' हो जाती है राज्य सरकारें ?

केरल में भाजपा ने सरकारी अस्पतालों के रवैये पर सवाल उठाया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -