हर कहीं गूंजे भारत माता की जय के जयकारे, शहीद को अंतिम नमन

कोल्हापुर : महाराष्ट्र के कोल्हापुर में जब भारतीय सेना के जवान कोफिन लेकर पहुंचे तो हर कोई गमगीन हो उठा। क्षेत्र के एक घर से मातमी रूदन सुनाई दे रहा था। मगर इसके बाद भी भारत माता की जय के जयकारे हर ओर गूंज रहे थे। सेना अपने जवान को सम्मान दे रही थी तो ग्रामीण परिजन को हिम्मत बंधा रहे थे। जम्मू के पुंछ में शहीद हुए कोल्हापुर के जवान राजेंद्र तुपारे का पार्थिव शरीर तिरंगे में लिपटे कोफिन में लाया गया।

शहीद राजेंद्र तुपारे रविवार को जम्मू - कश्मीर के पुंछ में शहीद हुए थे। जब वे सीमा पर तैनात थे इसी दौरान उनकी ओर एक गोला आया और फट गया। गोला फटने के बाद वे गंभीर घायल हो गए और उन्होंने शहादत प्राप्त की। उनका पार्थिव शरीर उनके पैतृक क्षेत्र में पहुंचा तो लोग उनके घर पहुंचे। राजेंद्र तुपारे का जन्म 1983 में हुआ था। राजेंद्र तुपारे ने 2002 में बेलगांव में मराठा लाइट इन्फ्रेंटी बटालियन में भागीदारी की।

उनकी पोस्टिंग सीमा पर की गई थी। पुंछ में पाकिस्तान द्वारा की गई फायरिंग में वे घायल हो गए और फिर उन्होंने देश को विदा कहा। गांव में शहीद का कोफिन पहुंचने के बाद दो दिन के शोक रखे जाने का निर्णय लिया गया। मंत्री चंद्रकांत पाटिल शहीद के घर पहुंचे। गौरतलब है कि पाकिस्तान की ओर से किए गए फायर में 3 लोग घायल हो गए। पाकिस्तान ने कई क्षेत्रों में मोर्टार से गोलीबारी की। हालांकि भारत ने जवाबी कार्रवाई करते हुए घुसपैठ के प्रयासों को नाकाम कर दिया।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -