अगर आपकी गाड़ी अचनाक से भिड़ जाए, तो जाने क्या करें
अगर आपकी गाड़ी अचनाक से भिड़ जाए,  तो जाने क्या करें
Share:

अगर ड्राइविंग करते वक्त आपका एक्सीडेंट हो जाए और आपकी गाड़ी सामने से पहले पुरी तरह से भिड़ जाए तो क्या होगा। आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स बताने जा रहे हैं जो आपको ऐसे समय में सहायता करेगें।

जल्दी कार से बहार निकले

·यदि कार का ऐक्सिडेंट हो जाए तो सबसे पहले आप कार से बाहर निकलने की कोशिश करें।
·यह कोशिश तभी करें जब आप शारीरिक तौर पर ऐसा करने के लिए सक्षम हों।
·यदि संभव हो तो बाहर निकलने के बाद अपनी कार की पार्किंग लाइट ऑन कर दें।

अगर हो सके तो सड़क के साइड पर आए

·हादसे के बाद अपनी कार को और खुद को सड़क-हाइवे से किनारे ले जाने की कोशिश करें।
·सड़क या हाइवे पर सुरक्षित जोन में पहुंचने के बाद ही अगले कदम के बारे में सोचें।

खुद को शांत रखें

·कार हादसे में अप्रत्यक्ष-प्रत्यक्ष तौर पर आप भी जिम्मेदार हो सकते हैं और सामने वाला भी। अपने आप को काबू में रखें और शांत रखने की कोशिश करें।
·किसी भी हादसे के बाद उसका असर कई दिनों, महीनों तक रह जाता है।
·आप यदि खुद को कंट्रोल कर पाएंगे तभी सिचुएशन को समझ पाएंगे।
 
पुलिस को कॉल करें

·जब आप सेफ जगह पर आ जाएं तो तुरंत पुलिस को कॉल करें। आस-पास लोग हों तो उनसे भी मदद मांगें।
·हो सके तो स्पॉट पर मौजूद ऐसे लोगों की तलाश करें जिन्होंने हादसे को अपने सामने होते हुए देखा।
 
जल्द अपनो को कॉल करें-

·ऐसे किसी कार हादसे के बाद अपनों को जरूर रिपोर्ट कर दें।
·कॉल के जरिए सूचित करें कि आपकी लोकेशन क्या है? हुआ क्या है?
·ज्यादा चोट तो नहीं हैं, जैसी सूचनाएं सुविधानुसार जरूर साझा करें।
 
कार को अकेला ना छोड़े-

·यदि बहुत जरूरी न हो तो घटनास्थल से ज्यादा दूर न जाएं। जब तक आप बाकी स्टेप लें, अपनी कार के करीब ही रहें। इससे आप सिचुएशन को बेहतर हैंडल कर पाएंगे।
·पुलिस के आने से पहले कुछ जरूरी जानकारी यदि आप अगले ड्राइवर से जुटा पाएं तो यह सुविधाजनक होगा।
·एक कागज पर - नाम, पता, फोन नंबर, बीमा कंपनी, बीमा पॉलिसी नंबर, लाइसेंस प्लेट नंबर और कार मॉडल जैसी 
जरूरी बातें नोट कर लें।

आपको ज्यादा चोट लगे तो पहले ईलाज -

·यदि आप हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए हैं तो बिना अन्य बातों की फिक्र किए उपचार करवाने का स्टेप लें।    

अपना क्लेम फाइल करें

·अगर आपके लिए संभव हो तो दुर्घटनास्थल की तस्वीरें खींच लें। इससे आपकी कार को हुए नुकसान का अंदाजा मिल जाएगा। बीमा की रकम को क्लेम करते समय आपको इन तस्वीरों की ज़रूरत पड़ सकती है।
·इस सब के बाद अपनी बीमा कंपनी एजेंट को घटना के बारे में बताएं। बीमा कंपनी को पुलिस की ओर से मिली रिपोर्ट्स सौंपें।
 
कार रिपेयर कराए-

बाद में अगर सब कुछ ठीक हो जाए तो आप कार को रिपेयर के लिए कंपनी के सर्विस स्टेशन ले जाएं और बीमे के लिए अप्लाई करें।

महिंद्रा Mojo Trail कैलेन्डर की घोषणा हुई, जल्द करे रजिस्ट्रेशन

ओला जल्द भारत में लॉन्च करेगी इलेक्ट्रिक टैक्सी

टीवीएस मोटर्स ने अपने डीलरों को दिए 57 करोड़ रुपये

काइनेटिक ने इंडियन मार्केट में लॉन्च किया एडवांस्ड लीथियम-आयन बैट्री वाला इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -