मोहाली में होंगे धर्मशाला में होने वाले तीनो मैच

आईपीएल 9 में राजनीती भी परवान पर है पहले जहां पानी पर राजनीती ने तूल पकड़ा था तो अब सुरक्षा को लेकर राजनीती ने इसमें प्रवेश किया है धर्मशाला में होने वाले प्रस्तावित आईपीएल के तीनों मैच भी राजनीति की भेंट चढ़ गए हैं। प्रदेश सरकार की ओर से सुरक्षा की लिखित मंजूरी न मिलने के कारण ये मैच भी धर्मशाला से छिन गए हैं।

एचपीसीए का दावा है कि आवेदन के बावजूद सरकार की ओर से सुरक्षा की मंजूरी नहीं दी गई।अब सात, नौ और पंद्रह मई को प्रस्तावित ये मैच मोहाली में होंगे। एचपीसीए प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि पहले प्रदेश सरकार ने टी-20 विश्वकप के दौरान भारत-पाक मैच को शिफ्ट करवाकर धर्मशाला ही नहीं पूरे प्रदेश की किरकिरी करवाई और अब उनके नकारात्मक रवैये से आईपीएल मैच भी छिन गए हैं।

हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के प्रवक्ता संजय शर्मा ने प्रेस वार्ता में बताया कि धर्मशाला में होने वाले आईपीएल मैचों की सुरक्षा के लिए 21 अप्रैल को मुख्यमंत्री कार्यालय को एक पत्र भेजा था। प्रदेश सरकार की ओर से लिखित में सुरक्षा देने की मंजूरी न मिलने पर किंग्स इलेवन पंजाब प्रबंधन ने धर्मशाला में मैच नहीं करवाने का निर्णय लिया है। अब तीनों मैच उनके घरेलू मैदान मोहाली में ही करवाए जाएंगे। किंग्स इलेवन पंजाब ने इसकी जानकारी आईपीएल गवर्निंग काउंसिल के अध्यक्ष राजीव शुक्ला को दे दी है। हालांकि, मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह आईपीएल मैचों को सुरक्षा देने का सार्वजनिक एलान कर चुके थे।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -