Video : कुछ इस तरह से निकाला जाता है जानवरों का फर

आजकल सब कुछ जानवरों की खाल से बनाया जा रहा है। ये बात आप सब बहुत ही अच्छे से जानते हैं। जो भी चीज़े बनती हैं जानवरों के बाल से या उनकी खाल से वो सब चीज़े हम इस्तेमाल भी करते हैं जानवरों पर इंसानों द्वारा किये जा रहे अत्याचारों से हम सब वाकिफ़ हैं। प्रयोगों के लिए या फ़ायदे के लिए हमेशा जानवर अपने जान की क़ुर्बानी देते आये हैं। ऐसा ही एक वीडियो सामने आया है, जिसमें सबसे प्यारे और मासूम जानवर खरगोश को उनके फरों के लिए तड़पते दिखाया गया है।

जैसा कि आप जानते हैं कि इनके फ़र बड़े मुलायम और कोमल होते हैं, इसलिए इनके फरों को कई कामों में लाया जाता है। इनकी मांग दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। आप देख सकते हैं इन मासूमों के पैरों को फैलाकर इन्हें सख्ती से बांध दिया जाता है। फिर इनके शरीर से वो रेशमी फाइबर खींच कर निकाल लिया जाता है। जब वो इस खतरनाक स्थिति का सामना कर रहे होते हैं, तो दर्द से चीख रहे होते हैं। फ़र निकलते वक़्त इनमें से कुछ की त्वचा भी छील जाती है। फ़र निकालने वाले एक आदमी ने बताया कि 'खरगोशों के शरीर के कुछ हिस्से ऐसे होते हैं, जहां से फ़र जल्दी नहीं निकलता और फ़र निकालते वक़्त वहां की त्वचा फट जाती है'.

फ्रांस में जानवरों के अधिकारों के लिए 'One Voice' नामक एक संस्था लड़ रही है उन्ही के द्वारा ये विडियो सामने आया है 'One Voice' के अध्यक्ष Muriel Arnal का कहना है कि 'जानवरों को इतना तड़पा कर और मौत के बराबर सज़ा देकर उनके अंगोरा फरों से बनी ऊन का स्वेटर, स्कार्फ़ और मोज़े पहनना हमें मंजूर नहीं है। हम उम्मीद करते हैं कि जल्द ही इस प्रक्रिया पर रोक लगायी जा सके'.

 

 

इन हरकतों से पहचाने महिलाओं के सम्बन्ध बनाने की इच्छा

इस समय महिलाएं रखती संबध बनाने की इच्छा

OMG! ये लिपस्टिक है या और कुछ

ये 5 देश है सबसे मोटे लोगो का बसेरा