Share:
वर्चुअल वर्ल्ड में ये देश शुरू करना चाह नया दूतावास, जानिए किस तरह होगा सारा काम
वर्चुअल वर्ल्ड में ये देश शुरू करना चाह नया दूतावास, जानिए किस तरह होगा सारा काम

Metaverse एक ऐसा वर्चुअल विश्व है, जहां पर आपको एक अलग ही प्रकार का अनुभव हो सकता है. वैसे तो ये एक कंप्यूटर से तैयार की गयी विश्व है, लेकिन ये हुबहू असली दुनिया से भी अधिक सच्ची दिखायी पड़ती है. Metaverse को इंटरनेट का अगला दौर कहना गलत नहीं होने वाला है. अब इसी मेटावर्स को लेकर  विश्व के सबसे नए गणराज्य बारबाडोस ने एक बड़ी घोषणा की है. 3 लाख की आबादी वाले कैरिबियाई द्वीपों के प्रमुख देश बारबाडोस मेटावर्स में पहला दूतावास खोलने वाला है. यहां सारा काम कंप्यूटर पर घर बैठे ही होगा. न कोई ऑफिस आवर होने वाला है न ही कोई मीटिंग.

डिसेंट्रलैंड (Decentraland) में डिप्लोमैटिक कंपाउंड का निर्माण किया जा रहा है. ये एक ऑनलाइन विश्व या मेटावर्स है. इसे एक्सेस करने के लिए कंप्यूटर या रियलिटी हेडसेट की आवश्यकता होती है. अभी हाल ही में Decentraland में एक वर्चुअल रियल एस्टेट को 2.43 मिलियन डॉलर में बेच दिया गया है.

क्रिप्टो एसेट मैनेजमेंट फर्म Grayscale के अनुसार मेटावर्स ट्रिलियन डॉलर रेवन्यू का मौका है. इसी का भाग बारबाडोस लेने में लगा हुआ है. जिसकों लेकर बारबाडोस की डिजिटल डिप्लोमेसी को आगे बढ़ाने वाले Gabriel Abed ने कहा कि वर्चुअल एम्बेसी बहुत आवश्यक है.

मेटावर्स में आप एक झटके में खुद को टेलीपोर्ट कर पाएंगे जहां चाहें वहां पहुंच पाएंगे. फिर वो चाहे आपका ऑफिस हो, आपके  मित्र का घर हो या किसी मूवी का हॉल हो. Metaverse एक ऐसा स्थान है, जिसकी कोई लिमिट नहीं होने वाली है. यानी यहां पर आप कभी भी कुछ भी कर पाएंगे हैं.

वर्ष 1992 में साइंस फिक्शन लेखक नील स्टीफेन्सन ने एक उपन्यास में लिखा है,  जिसका नाम है  'स्नो क्रैश'. इस उपन्यास में पहली बार 'मेटावर्स' नाम का जिक्र दिया था. उपन्यास में लेखक ने इंटरनेट की ऐसे विश्व की कल्पना की थी, जिसमें इंसान घर बैठा रहे लेकिन उसकी थ्री डी इमेज विश्व में कहीं भी पहुंच चुके है. मतलब एक असल विश्व के साथ ही एक वर्चुअल दुनिया भी होने वाली है जिसमें आप घर बैठे-बैठे दुनिया में कहीं भी पहुंच सकते हैं.

गौरतलब है कि क्रिप्टो करेंसी का भी पहले एक नोवेल में ही जिक्र कर दिया है. आज तकनीक के तेजी से विकास से क्रिप्टो करेंसी एक हकीकत बन गई है. ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि आने वाले वक़्त में मेटावर्स भी एक हकीकत होने वाला है.

घर में पूजा-पाठ के दौरान जरूर रखे इन 5 बातों का ध्यान

खेलो इंडिया: इस बार 14 टीमें महिला हॉकी लीग में लेंगी भाग

ओमिक्रॉन संक्रमण का ये एक लक्षण है सबसे अलग, वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -