चार माह की बच्ची को लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर देख डॉग को भी आया प्यार

लंदन: चार माह की एक बच्ची लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर जीवित है. नोर हल को ऐसा स्ट्रोक आया कि उसके दिमाग के दोनों साइड ने काम करना बंद कर दिया. इससे उसका तंत्रिका तंत्र पैरालाइज हो गया. कई हफ्तों तक जांच करने के बाद अब डॉक्टर इस नतीजे पर पहुंचे है कि बच्ची चोट के कारण जीवित नहीं रह सकती।

डॉक्टरों की सलाह पर बच्ची की मां मैरी और पिता जॉन ने अंततः यह निर्णय लिया है कि बच्ची के लाइफ सपोर्ट सिस्टम को हटा दिया जाना चाहिए. डॉक्टरों का कहना है कि वो जितने अधिक दिनों तक विकल्पों के सहारे जीवित रहेगी, उतनी ही ज्यादा तकलीफ और घातक हार्ट अटैक से उसकी जान जा सकती है।

लेकिन जब सारे रास्ते बंद हो गए, तो मैरी और जॉन द्वारा पाले गए बेजुबान कुत्ते ने बच्ची के प्रति अनोखा प्यार दिखाया. मैरी ने नोरा के पास बैठे डॉगी की तस्वीर को सोशल मीडिया पर शेयर किया है, लेकिन अपने आखिरी पोस्ट में दंपति ने शुक्रवार को कहा कि वो सप्ताह के अंत तक नोरा का लाइफ सपोर्ट सिस्टम हटा देंगे।

मैरी ने लिखा कि उन्‍हें फैसला करना है कि यदि हर कोई अपसेट होता है, तो वह डॉग्‍स को अपने भाईयों को दे दें या या जब बच्‍ची इस दुनिया से विदा ले, तो डॉग्‍स को उसके कमरे में रहने दें. ऐसा इसलिए ताकि जब वे घर जाएं तो उन्‍हें पता हो कि छोटी बच्‍ची कहां गई. इसके बाद कई लोगों ने दंपति को सलाह दी है कि उसे अंतिम सास तक नोरा के पास रखा जाए।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -