महाशिवरात्रि पर खरगोन में मचा भारी हंगामा, हुई जमकर पत्थरबाजी
महाशिवरात्रि पर खरगोन में मचा भारी हंगामा, हुई जमकर पत्थरबाजी
Share:

खरगोन: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में महाशिवरात्रि (Shivratri) के त्योहार पर पूजा करने को लेकर 2 समुदायों के बीच झगड़ा हो गया। तत्पश्चात, लड़ाई आरम्भ हो गई। इस लड़ाई में लगभग 14 लोग घायल हो गए। दलित समुदाय (Dalit community) के सदस्यों ने इल्जाम लगाया कि तथाकथित ‘उच्च जाति’ के कुछ व्यक्तियों ने उन्हें खरगोन जिले के एक मंदिर में प्रवेश करने से रोक दिया था।

मामले को लेकर पुलिस ने कहा है कि सनावद क्षेत्र के छपरा गांव में तीन अन्य समुदायों के व्यक्तियों द्वारा बनाए गए शिव मंदिर में दलितों के पूजा करने पर बहस मारपीट में बदल गई। राजधानी भोपाल से लगभग 250 किलोमीटर दूर क्षेत्र में हुई हिंसा में दोनों ओर से अंधाधुंध पत्थरबाजी की खबर है। वरिष्ठ पुलिस अफसर विनोद दीक्षित ने कहा, “दोनों तरफ से भारी पथराव हुआ। दोनों पक्षों की तरफ से शिकायत की गई है तथा कार्रवाई की जाएगी।” 

दलित समुदाय के एक व्यक्ति प्रेमलाल (Premlal) द्वारा दायर की गई एक शिकायत में इल्जाम लगाया गया है कि गुर्जर समुदाय (Gurjar community) के भैया लाल पटेल के नेतृत्व में एक समूह ने दलित लड़कियों को मंदिर में प्रवेश करने से रोक दिया था। पुलिस ने 17 संदिग्धों एवं 25 अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ दंगा करने और अन्य आरोपों के तहत मुकदमा दर्ज किया है। इसमें अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति की सुरक्षा के कानून भी सम्मिलित हैं। रविंद्र राव मराठा (Ravindra Rao Maratha) की शिकायत पर प्रेमलाल व 33 अन्य के खिलाफ हथियार से हमला करने की भी शिकयत दर्ज की गई है। विनोद दीक्षित ने कहा, “पुलिस और राजस्व अफसरों की एक टीम ने गांव का दौरा किया। दोनों पक्षों को समझाया गया कि किसी भी जाति को मंदिर में प्रवेश करने से नहीं रोका जा सकता है। गांव के लोग बीते कुछ दिनों से एक बरगद के वृक्ष को काटने, जिसे कुछ लोग पवित्र मानते हैं तथा संविधान निर्माता और दलित आइकन बीआर अंबेडकर (BR Ambedkar) की प्रतिमा स्थापित करने के प्रस्ताव को लेकर चिंतित थे। वृक्ष काटने को लेकर गुर्जरों द्वारा दलित समुदाय के छह व्यक्तियों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई। एक पुलिस अफसर ने कहा कि एक पेड़ को काटने का भी मामला था। यह समझाया गया था कि बिना इजाजत के पेड़ नहीं काटे जा सकते।

भूकंप के झटकों से हिली इंदौर की धरती, इतनी रही तीव्रता

'हमने कभी BJP के साथ समझौता नहीं किया', जानिए क्यों ऐसा बोले जयराम रमेश?

लावारिस बैग ने मचाया हड़कंप, सच्चाई जानकर लोग हुए हैरान

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -