झील में आग और धुंए से लोगो में दहशत

बेंगलुरू। बेंगलुरू में बल्लानदुर झील के समीप कचरे के ढेर में आग लगने से क्षेत्र में धुंए का गुबार एकत्रित हो गया। हालात ये थे कि गुबार दूर तक सर्जनपुर मुख्य मार्ग तक दिखाई दे रहा था। ऐसे में लोग दहशत में आ गए। झील के उपर धुंआ एकत्रित होने और पर्यावरण को संभावित नुकसान होने के चलते अब पर्यावरण मंत्रालय ने जांच के आदेश दे दिए हैं। दूसरी ओर यहां लगी आग को बुझाने के प्रयास किए गए।

कुछ ही देर में फायरकर्मियों ने आग को बुझा दिया। आगजनी झील के पास होने को गंभीर माना जा रहा है। इस मामले में पर्यावरण मंत्री अनिल माधव दवे ने कहा कि इस मामले की जांच की जा रही है। रिपोर्ट आने के बाद इस मामले की जानकारी मिलेगी कि आगजनी के क्या कारण थे।

प्रारंभिक तौर पर कहा गया है कि कचरे के ढेर में आग लगी थी जिससे धुंआ बन गया। पहले लोगों को लगा कि झील में आग लगी है, मगर बाद में झील के पास आग लगने की जानकारी मिली। आगजनी से आसपास के लोग डर गए थे। उल्लेखनीय है कि बल्लानदुर झील में प्रदूषण के कारण झाग बनता है और यहां पर कई बार आगजनी हो चुकी है।

उपहार अग्नि कांड: सुप्रीम कोर्ट ने दिया गोपाल अंसल को झटका

उड़ान भरने के बाद विमान में लगी आग, 186 यात्री थे सवार

 

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -