मूत्र का रंग बताता है आपकी बीमारी के बारे में

क्या आप जानते है हमारे मूत्र के रंग से भी हम हमारी बिमारी का पता लगा सकते है जी हाँ ऐसी कई बिमारी होती है जिनकी जानकारी हमारे यूरिन से पता लग जताई है जैसे  पथरी होना,ग्‍लोमेरूलर नेफीरिटिस, यूरिन इंफेक्‍शन तथा अन्य तरह की बिमारी जिनके बारे में हम आपको बता रहे है तो आइये जानते है इस बारे में कुछ रोचक जानकारी...

गुर्दे में पथरी होना
अगर किसी भी व्‍यक्ति को गुर्दे में पथरी होती है तो पेशाब में खून आने लगता है क्‍योंकि पेशाब की प्राकृतिक प्रक्रिया में रूकावट आती है। इसका उपचार संभव होता है, इसलिए समय रहते डॉक्‍टर से सम्‍पर्क करें। सर्जरी की आवश्‍यकता पड़ने पर शीघ्र ही उसे करवा लें।

ग्‍लोमेरूलर नेफीरिटिस 
पेशाब में खून आने का यह सबसे आम कारण होता है। बढ़ते बच्‍चों और छोटे बच्‍चों में यह समस्‍या सबसे ज्‍यादा देखने को मिलती है। लेकिन कई बार बड़े लोग भी इस समस्‍या का शिकार हो जाते हैं।

यूरिन इंफेक्‍शन
महिलाओं में ये समस्‍या बहुत आम होती है। मूत्र मार्ग में संक्रमण होने के कारण महिलाओं को काफी दिक्‍कत होती है, जलन के साथ-साथ कई बार खून भी आने लगता है।

गुर्दे या पित्‍ताशय में ट्यूमर होना
गुर्दे या पित्‍ताश्य में ट्यूमर होने पर भी पेशाब में खून आने लगता है। ऐसे में डॉक्‍टरों द्वारा सर्जरी की मदद से इलाज किया जाता है।

सिस्टिक ग्रोथ
महिलाओं में सिस्‍ट की वृद्धि होना आम बात है और यह दर्दनाक बीमारी होती है, जिसके कारण पेशाब में खून आने लगता है। सामान्‍यत: सिस्‍ट, गुर्दे में बढ़ता है जिसके कारण पेशाब करने में दर्द और जलन होती है और एक समय के बाद खून आना शुरू हो जाता है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -