Share:
'सभी भारतीय मुसलमानों के पूर्वज हिन्दू ही थे, भारत कभी मुस्लिम देश नहीं था..', बिहार सुन्नी वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष इरशादुल्लाह का बयान
'सभी भारतीय मुसलमानों के पूर्वज हिन्दू ही थे, भारत कभी मुस्लिम देश नहीं था..', बिहार सुन्नी वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष इरशादुल्लाह का बयान

पटना: बिहार सुन्नी वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष इरशादुल्लाह ने शुक्रवार (29 सितंबर) को भारतीय मुसलमानों सहित भारत में रहने वाले सभी लोगों के सामान्य हिंदू वंश को स्वीकार करने के बाद अपने भाइयों के बीच विवाद खड़ा कर दिया। एक न्यूज चैनल से बात करते हुए इरशादुल्लाह ने कहा कि सभी भारतीय मुसलमान, हिंदू धर्म से ही धर्मांतरित हुए हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय मुसलमानों के पूर्वज हिंदू हैं और कोई भी मुसलमान बाहर से भारत नहीं आया और न ही भारत कभी मुस्लिम देश था।

इरशादुल्लाह ने कहा कि, 'हिन्दुस्तान में सभी मुसलमान हिन्दू से ही धर्मान्तरित किये गये थे। हमारे पूर्वज हिंदू ही हैं। कोई भी भारतीय मुसलमान बाहर से नहीं आया।'' बिहार सुन्नी वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष इरशादुल्लाह ने "अल्पसंख्यकों" के लिए किए गए कार्यों के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनकी सरकार की प्रशंसा की। उन्होंने आगे नीतीश कुमार को देश का तीसरा सबसे लोकप्रिय राजनीतिक नेता करार दिया। कथित तौर पर, इरशादुल्ला ने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर भी हमला किया और उन्हें भाजपा की "बी टीम" बताया। उन्होंने औवेसी से देश के मुसलमानों को बख्शने को भी कहा और कहा कि AIMIM सुप्रीमो भाजपा की तर्ज पर काम कर रहे हैं।

इरशादुल्लाह ने ओवैसी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिए बिहार के मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, किशनगंज और दरभंगा में आठ वक्फ संपदाओं की जमीन पर 114 करोड़ रुपये की लागत से बहुउद्देशीय वक्फ भवन का निर्माण कराया जाएगा।  समस्तीपुर और नालन्दा में एक वक्फ इस्टेट की भूमि पर विवाद चल रहा है।  इसके अलावा कई जिलों में अल्पसंख्यक आवासीय विद्यालयों का विकास चल रहा है। 

 

पूर्व कांग्रेस नेता गुलाम नबी आज़ाद ने भी दिया था ऐसा ही बयान:-

बता दें कि, इस साल अगस्त में, गुलाम नबी आज़ाद का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें वे भारतीय मुसलमानों सहित भारत में रहने वाले सभी लोगों के सामान्य हिंदू वंश को स्वीकार करते हुए दिखाई दिए थे। उन्होंने कहा था कि, सभी भारतीय मुस्लिमों के पूवज हिन्दू ही थे। उन्होंने यह बयान जम्मू-कश्मीर के डोडा जिले के चिरल्ला शहर में एक उच्च माध्यमिक विद्यालय में एक कार्यक्रम को संबोधित किया, जहां बड़ी संख्या में मुस्लिम मौजूद थे। वायरल वीडियो क्लिप 9 अगस्त 2023 को आयोजित एक कार्यक्रम में दिए गए उनके भाषण का है।

कनाडा में देहव्यापार में धकेली जा रहीं भारतीय लडकियां, लेकिन पीएम ट्रुडो को खालिस्तानी राग से फुर्सत नहीं

'महिला आरक्षण के नाम पर अब लिपस्टिक और बॉब कट वाली महिलाएं पहुंचेंगी संसद', RJD नेता ने दिया विवादित बयान

'महिला आरक्षण' को पी चिदंबरम ने बताया चुनावी जुमला, संसद में कांग्रेस ने किया था बिल का समर्थन

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -