डॉक्टर्स के हार मानने पर भी इस महिला ने अपनी बीमारी से नहीं मानी हार

डॉक्टर्स वैसे तो मरीज के बारे में सही ही बोलते हैं। लेकिन हमेशा ही सही बोले ये ज़रूरी नहीं है। डॉक्टर्स की बातों पर हमेशा आंख बंद करके यकीन करना सही नहीं होता। और इसी बात को साबित किया है इस लड़की ने जो थाइरॉइड की समस्या से जूझ रही थी। जी हाँ, ये है 25 साल की 'अंबर बरहाम' जिन्हे थाइरॉइड की समस्या थी।

इन्होने इसके लिए कई इलाज भी करवाए लेकिन कुछ खास फायदा नहीं हुआ। अंबर एक बच्चे की माँ है और पेशे से एक टीचर भी है। डॉक्टर्स ने भी हार मान कर उन्हें सर्जरी के लिए कह दिया था लेकिन क्योकि उनका ये दवा था कि ये बीमारी बिना सर्जरी के thik नहीं होगी। जब अंबर को डॉक्टर ने ये कहा तो उन्हें ये बात कुछ रास नहीं आयी।

इसी के चलते उन्होंने ऐसा कुछ किया की सिर्फ आठ महीने में ही उनका वजन भी घट गया और थाइरोइड की बीमारी से निजात भी मिल गया। इस बीमारी में उनका वजन 124 किलो के बराबर हो गया था। जिस पर अम्बर ने कहा कि, '' 'उसे नहीं लगता कि केवल सर्जरी करवा कर ही अपना वजन कम किया जा सकता है। मैने अपना डाइट चार्ट मेंटेन किया और हर रोज व्यायाम करने से मुझे कई तरह की समस्याओं से छुटकारा मिला'।

'वजन घटाने के बाद मैनें लगभग 10 कपड़ों को रिटायर कर दिया है। फास्ट फूड और पिज्जा मुझे बेहद पसंद था लेकिन अब मैंने ये सब खाना कम कर दिया है'। 'डॉक्टरों ने कहा था सर्जरी के लिए लेकिन मैंने उन्हें गलत साबित कर अपने तरीके से अपना वजन कम किया और अब मेरी समस्या भी सुलझ गई। अब मैं दूर तक दौड़ सकती हूं और जैसे मन वैसे कपड़े पहन सकती हूं'। ''

नशे में धुत लड़की के साथ सड़क पर लड़के ने की शर्मनाक हरकत

इन तस्वीरों में पता नहीं लोग क्या दिखाना चाहते है, खुद ही देख लीजिए

सिर्फ नौ महीने में ही इस बच्ची का हो गया है ये हाल, की माता पिता हो रहे है परेशान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -