अंतिम तिमाही और मुनाफे में 72 फीसदी की बढ़ोतरी

जहाँ एक तरफ देश की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर एक्सपोर्ट कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेस पर अमेरिका की एक अदालत के द्वारा करीब 62.65 अरब रुपये का जुर्माना लगाया है. तो वही दूसरी तरफ़ा यह बात सामने आ रही है कि वित्त वर्ष 2015-16 की चौथी तिमाही के दौरान कम्पनी का शुद्ध लाभ 72.7 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 6,413 करोड़ रुपए के स्तर पर पहुँच गया है.

इसके साथ ही जानकारी देते हुए यह भी बता दे कि पिछले वर्ष में इसी तमहि के दौरान कम्पनी का शुद्ध लाभ 3,713 करोड़ रुपए देखा गया था. इसके साथ ही यह भी बताया जा रहा है कि इसी तिमाही के दौरान कंपनी की आय 17.5 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ देखने को मिला है और इसके साथ ही यह 28,449 करोड़ रुपए के स्तर पर पहुँच गई है.

कम्पनी की आय पिछले वर्ष में इसी माह अवधि के दौरान 24,220 करोड़ रुपए देखने को मिली थी. जानकारी में यह भी बताया जा रहा है कि आलोच्य अवधि में कम्पनी का मुनाफा 22.4 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 24,292 करोड़ रुपए के स्तर पर पहुँच गया है और इसके साथ ही कम्पनी का कुल राजस्व 14.8 फीसदी की मजबूती के साथ 1,08,646 करोड़ रुपए के स्तर पर पहुँच गया है.

मामले में टीसीएस के सीईओ और एमडी एन चंद्रशेखरन का यह बयान सामने आया है कि कमजोर चौथी तिमाही के चलते भी कम्पनी का प्रदर्शन अच्छा देखने को मिला है. उन्होंने बताया है कि बीएफएसआई, रिटेल और मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में काफी मजबूती नजर आई है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -