मुलायम से नाराज़ हुए बुखारी, मुस्लिमों को मौका न मिलने पर किए सवाल

लखनऊ : राज्यसभा में सदस्यों के लिए विभिन्न पार्टियों द्वारा अपने-अपने प्रत्याशियों के नामों को चयनित कर लेने के बाद समाजवादी के प्रत्याशियों को लेकर सवाल उठ रहे हैं। दरअसल दिल्ली के शाही इमाम मौलाना अहमद बुखारी ने आपत्ती ली है कि सपा के प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने राज्यसभा के लिए किसी मुसलमान नेता को क्यों प्रत्याशी के तौर पर चयनित नहीं किया। दरअसल वे उत्तरप्रदेश पहुंचे। इस दौरान उन्होंने सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव से उनके आवास पर भेंट की।

लगभग आधे घंटे तक दोनों की बैठक हुई। इस दौरान राज्य के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी मौजूद थे। उन्होंने सवाल किया और कहा कि राज्य सभा में एक भी मुसलमान नेता क्यों नहीं भेजे गए। इस मामले में दिल्ली के शाही इमाम मौलाना अहमद बुखारी ने कहा कि सूबे के सरकार की वादाखिलाफी का कारण है कि मुसलमानों में दिन ब दिन मायूसी बढ़ती जा रही है।

यदि ऐसा ही होता रहा तो विधानसभा चुनाव में मुस्लिम समाज सपा के प्रति अपनी राय बदल सकेगा। बुखारी द्वारा यह भी कहा गया कि समाजवादी पार्टी ने घोषणा पत्र में मुसलमानों से जिस तरह के वायदे किए गए आखिर वे कहां तक पूरे हो पाए हैं इसे लेकर लोगों को बताए जाने की बात भी उन्होंने कही।

उन्होंने मांग की कि आने वाले विधानसभा चुनाव के लिए सपा मुस्लिमों को मौका दे। उन्होंने कहा कि मुसलमानों को लेकर उन्होंने जो वायदे किए हैं वे कितने और कहां तक पूर्ण हो गए हैं इसे लोगों को बताया जाए।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -