सुनील गावस्कर ने रवि शास्त्री के लिए बांधे तारीफों के पूल

भारतीय क्रिकेट टीम के सफल पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने जिंबाब्वे के पूर्व कोच डंकन फ्लेचर की जमकर निंदा की। पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा की जिंबाब्वे के पूर्व कोच डंकन फ्लेचर जब कोच थे तब उनके पास अनुशासन की कमी थी और उनके कार्यकाल में खिलाड़ी प्रैक्टिस सेशन के लिए काफी देर से पहुंचते थे।

पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा की, 'मुझे लगता है कि अब अधिक सकारात्मकता है। और अभ्यास के दौरान ज्यादा  खेल के प्रति लगाव और जूनून देखने को मिल रहा है। जिंबाब्वे के पूर्व कोच डंकन फ्लेचर को नेतृत्व में कार्य के जिम्मेदारी की कमी थी। और उनके कार्यकाल में खिलाड़ी मैदान पर काफी देर से आते थे। 

जबकि पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने भारतीय टीम के निदेशक रवि शास्त्री के अच्छे प्रयासों की तारीफों के पूल बांधे. पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने कहा की , 'अब रवि शास्त्री और तीन कोचों के मार्गदर्शन में इसमें सुधार आया है। इसमें और भी अधिक सुधार लाया जा सकता है. लेकिन निश्चित तौर पर भारतीय क्रिकेट टीम को रवि शास्त्री के अंतर्गत नई कोचिंग टीम से काफी लाभ मिला है।' जिंबाब्वे के पूर्व कोच डंकन फ्लेचर अप्रैल 2011 में भारत के कोच बने थे और इस साल मार्च में विश्व कप के साथ उनका कार्यकाल समाप्त हुआ है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -