समुद्री सीमा पार करने के आरोप में श्रीलंका ने तमिलनाडु के 7 मछुआरों को किया गिरफ्तार
समुद्री सीमा पार करने के आरोप में श्रीलंका ने तमिलनाडु के 7 मछुआरों को किया गिरफ्तार
Share:

चेन्नई: श्रीलंकाई नौसेना ने 10 मार्च की सुबह 'अतिक्रमण' के आरोप में सात मछुआरों को गिरफ्तार किया था। जानकारी के अनुसार, सात मछुआरों को गिरफ्तार किया गया था। श्रीलंका के नेदुनथीवु नौसेना शिविर के पास 32 समुद्री मील की दूरी पर मछली पकड़ने के दौरान अतिक्रमण करने के लिए श्रीलंकाई नौसेना ने ये गिरफ्तारियां की थी। ये मछुआरे 9 मार्च को जेगथापट्टिनम बजरा बंदरगाह से रवाना हुए थे।

गिरफ्तार मछुआरे की पहचान कलियाप्पन, अखिलन, कोडी मारी, शेख अब्दुल्ला, थंगराज, जयारमन और सरवनन के रूप में हुई है।
गिरफ्तार मछुआरे नागपट्टिनम, रामनाथपुरम और पुडुकोट्टई जिलों के हैं। इससे पहले फरवरी में श्रीलंकाई नौसेना द्वारा पकड़े गए छह मछुआरों को रिहा कर दिया गया था। इससे पहले, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने क्षेत्र में राज्य के मछली पकड़ने वाले समुदाय के सदस्यों पर हमलों में वृद्धि के बारे में चिंता व्यक्त की और प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी से हस्तक्षेप करने और मुद्दे को जल्द से जल्द हल करने का आग्रह किया।

प्रधानमंत्री मोदी को लिखे अपने पत्र में मुख्यमंत्री स्टालिन ने कहा, "मैं श्रीलंकाई अधिकारियों द्वारा तमिल मछुआरों और उनकी नौकाओं को पकड़ने की घटनाओं में चिंताजनक वृद्धि के संबंध में अपनी गहरी चिंता व्यक्त करने के लिए लिख रहा हूं। यह मुद्दा आजीविका के अधिकार को गंभीर रूप से प्रभावित करता है।इन मछुआरों का, क्योंकि समुदायों ने पीढ़ियों से मछली पकड़ने के इन जल का उपयोग किया है।" इसके अलावा, स्टालिन ने कहा, '2023 के दौरान, श्रीलंकाई नौसेना ने 243 मछुआरों को गिरफ्तार किया और 37 नौकाओं को जब्त कर लिया। हालांकि, पिछले 28 दिनों में ही छह घटनाओं में 88 मछुआरों और 12 नौकाओं को पकड़ा गया।

आयकर विभाग के नोटिस के खिलाफ दिल्ली HC पहुंची कांग्रेस, 105 करोड़ की टैक्स वसूली का मामला

चुनावी बांड से जुडी SBI की याचिका सुप्रीम कोर्ट में ख़ारिज, जानिए क्या है पूरा मामला

'ये भ्रष्ट लोगों और घोटालेबाजों का गठजोड़..', विपक्षी गठबंधन पर केंद्रीय मंत्री नित्यानंद राय का हमला

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -